Advertisement

आगामी विधानसभा चुनाव के मद्देनजर पुलिस ने नक्सलियों के खिलाफ कमर कसी, झारखंड पश्चिम बंगाल व उड़ीसा के नक्सल प्रभावित जिले के सीआरपीएफ और पुलिस अधिकारियों के साथ एसएसपी ने की बैठक

- Advertisement -
- Advertisement -

जमशेदपुर:पूर्वी सिंहभूम के एसएसपी अनूप बिरथरे की अध्यक्षता में झारखंड, पश्चिम बंगाल व ओडिशा के सीमावर्ती नक्सल प्रभावित जिलों की पुलिस की संयुक्त बैठक हुई। बैठक में बंगाल और ओडि़शा सीमा पर 16 चेकनाका स्थापित करने का निर्णय लिया गया साथ ही आगामी विधानसभा चुनाव के मद्देनजर विधि-व्यवस्था बनाए रखने को आपसी तालमेल बनाए रखने पर जोर दिया गया। इसके अलावा झारखंड के पूर्वी सिंहभूम जिला, पश्चिम बंगाल के मिदनापुर, बेलपहाड़ी, झाडग़्राम, पुरुलिया और ओडि़शा के सीमावर्ती मयूरभंज इलाके में सक्रिय नक्सलियों को नेस्तानबूद किए जाने की रणनीति पर सहमति बनी।

- Advertisement -

- Advertisement -

इस बैठक में पूर्वी सिंहभूम जिले के एसएसपी, ग्रामीण एसपी पीयूष पांडेय, सीआरपीएफ के कमांडेट, पश्चिम बंगाल के मिदनापुर और पुरुलिया और ओडि़शा के मयूरभंज के पुलिस अधिकारी मौजूद थे. बैठक में तीनों राज्यों की सीमा क्षेत्र के 80 बूथ के लिए पड़ोसी राज्यों से सहयोग मांगा गया है। बैठक के दौरान पूर्वी सिंहभूम जिले से सटे पश्चिम बंगाल और ओडिशा के सीमावर्ती नक्सल इलाकों में तीनों राज्य की पुलिस अधिक सक्रिय व सतर्क रहने पर जोर दिया गया. साथ ही पूर्वी सिंहभूम जिले के बंगाल सीमा पर सक्रिय नक्सली असीम मंडल उर्फ आकाश दस्ते को घेरने के लिए संयुक्त अभियान भी चलाने का निर्णय लिया गया ताकि नक्सली आत्मसमर्पण को बाध्य हो जाएं।
बैठक के महत्वपूर्ण बिंदुओं पर एक नजर
1.नक्सलियों के खिलाफ समय-समय पर किस तरह से अभियान चलाई जाए इसकी रुपरेखा तैयार की गई।
2.नक्सली मामलों में कैसे इंटेलिजेंस शेयर हो उसकी कार्ययोजना तैयार की गई।
3.सरकार की सरेंडर पॉलिसी की जानकारी दी जाय।
4.नक्सलियों के शहरी कनेक्शन का पता लगाया जाय जो इन्हें मदद पहुंचाते है।
5.झारखंड, बंगाल और ओडि़शा के सीमावर्ती इलाके में में नक्सलियों के खिलाफ अभियान को लेकर आपसी समन्वय हो।
6.नक्सल मुक्त कराए इलाकों पर विशेष नजर रखते हुए, दस्ते में नए सदस्यों के शामिल होने की सूचना मिलने पर उसे चिंहित किया जाय।
7.नक्सलियों के खिलाफ अभियान को लेकर सूचनातंत्र को सशक्त करने पर जोर।
8.साइबर क्राइम, अंतर्राज्यीय आपराधिक गिरोह, मादक द्रव्य तस्कर और अपराधियों की सूची आदान-प्रदान करे।

- Advertisement -

READ THIS ALSO

Jharkhand Varta

Related Articles

- Advertisement -

Latest Articles