Advertisement

इस बार पालकी मैं नहीं उठाऊंगा, खुद बैठूंगा: उद्धव ठाकरे

- Advertisement -

सतीश सिन्हा

एजेंसी : महाराष्ट्र में सरकार बनाने को लेकर राजनीति अपने चरम पर है इसका मुख्य वजह यह है कि महाराष्ट्र के राज्यपाल भगत सिंह कोश्यारी ने महाराष्ट्र विधानसभा चुनाव में सबसे बड़े दल के रूप में उभरे भारतीय जनता पार्टी को शनिवार को बुलाकर कहा था कि सरकार बनानी है तो सूचित करें।

इसी बीच सूत्रों के मुताबिक यह खबर आ रही है कि उद्धव ठाकरे ने होटल रीट्रीट में अपने विधायकों को संबोधित करते हुए कही कि इस बार पालकी मैं नहीं उठाऊंगा बल्कि खुद बैठूंगा। इससे पहले शिवसेना विधायकों ने सीएम पद के लिए आदित्य ठाकरे की जगह उद्धव का नाम आगे कर दिया था।

दूसरी ओर खबरों के मुताबिक भाजपा और शिवसेना की रविवार को अलग-अलग हुई बैठकों में दोनों दलों ने अपना मुख्यमंत्री बनाने का दावा किया है। भाजपा कोर कमेटी की बैठक सुबह कार्यवाहक मुख्यमंत्री देवेंद्र फडणवीस के सरकारी आवास ‘वर्षा’ पर हुई। भाजपा कोर कमेटी की दूसरी बैठक भी खबर लिखे जाने तक शुरू हो गयी थी। इसमें भाजपा कोई महत्वपूर्ण निर्णय ले सकती है। वहीं दूसरी तरफ भाजपा नेता सुधीर मुनगंटीवार क्या कहना है कि राज्यपाल ने सरकार बनाने का दावा करने के लिए भाजपा को बुलाया है।

राज्य में भाजपा का ही मुख्यमंत्री बनेगा। मुख्यमंत्री आवास ‘वर्षा’ में हुई बैठक में प्रदेश अध्यक्ष चंद्रकांत पाटील, सुधीर मुनगंटीवार, गिरीश महाजन, विनोद तावड़े आशीष शेलार आदि मौजूद थे।

विश्वस्त सूत्रों के मुताबिक इस बैठक के बाद भाजपा नेताओं ने राष्ट्रीय अध्यक्ष अमित शाह से भी चर्चा की। शाह ने पार्टी नेताओं को निर्देश दिया है कि यदि शिवसेना सरकार बनाने जा रही है तो भाजपा को विपक्ष में बैठना चाहिए।

इधर खबरों के मुताबिक उधर शिवसेना के युवा नेता आदित्य ठाकरे और प्रवक्ता संजय राऊत ने रिट्रीट होटल में ठहरे पार्टी के विधायकों से मुलाकात की। राऊत ने कहा कि अगला मुख्यमंत्री शिवसेना का बनना तय है। अभी भी समय नहीं गया है। भाजपा को तय फार्मूले के तहत शिवसेना का मुख्यमंत्री पद देना चाहिए। शिवसेना प्रमुख उद्धव ठाकरे भी रिट्रिट होटल में जाकर विधायकों से मिले। इस दौरान कुछ विधायकों ने उद्धव को ही मुख्यमंत्री बनाने की मांग उठायी।

- Advertisement -

READ THIS ALSO

Jharkhand Varta

Related Articles

- Advertisement -

Latest Articles