एयरपोर्ट इलाके में बेखौफ अपराधियों ने जमीन कारोबारी को गोली मारकर कर हत्या की

0

रांची- रांची के एयरपोर्ट थाना क्षेत्र में बेखौफ अपराधियों ने शुक्रवार की शाम जमीन कारोबारी धर्मदेव साहू उर्फ गब्बर (40) की गोली मारकर हत्या कर दी। उसपर ताबड़तोड़ गोलियां चलाई गई। सारी गोलियां सीने में मारे जाने की बात सामने आई है। घटना को बिरसा मुंडा एयरपोर्ट परिसर स्थित थाना से महज एक किलोमीटर की दूरी पर अंजाम दिया गया है। बाइक पर आए चार हथियारबंद अपराधी घटना को अंजाम देने के बाद आराम से भागे। जानकारी के अनुसार धर्मदेव साहू गब्बर हुंडरू का रहने वाला है। वह शाम करीब 5:00 बजे अपने घर से निकल कर हुंडरू मुख्य सड़क पर पप्पू के लकड़ी कटिग दुकान के पास पहुंचा था। वहां खड़ा रहने के दौरान दो बाइक पर चार हथियारबंद अपराधी पिस्तौल लहराते हुए पहुंचे और ताबड़तोड़ फायरिग शुरू कर दी। फायरिग की आवाज सुनकर आसपास के लोग भागने लगे, वहां अफरा तफरी मच गई थी। अपराधियों ने गोली मारने के बाद वहां से एक पत्थर उठाया और सिर कूच दिया। इसके बाद वहां से आराम से निकल गए। घटना की सूचना मिलने के बाद एयरपोर्ट थाने की पुलिस मौके पर पहुंची और शव को कब्जे में लेकर पोस्टमार्टम के लिए रिम्स भेज दिया। घटनास्थल से दो पिस्टल और गोलियों का 10 खोखा बरामद किया गया है। पुलिस घटना को अंजाम देने वाले अपराधियों की तलाश में जुट गई है। इस घटना के बाद पूरे इलाके में दहशत का माहौल हो गया है, पुलिस प्रशासन की कार्यशैली पर सवाल उठ रहे हैं। घटना के पीछे जमीन विवाद आ रहा सामने :पुलिस के अनुसार धर्मदेव साहू उर्फ गब्बर का अपराधिक इतिहास रहा है। उसके खिलाफ आ‌र्म्स एक्ट के तीन अलग-अलग मामले दर्ज हैं। वह आ‌र्म्स सप्लायर भी रह चुका है। पुलिस को जानकारी मिली है कि इस घटना को पांच एकड़ जमीन के विवाद में अंजाम दिया गया है। घाघरा नदी के समीप स्थित एक 5 एकड़ जमीन पर कब्जा को लेकर रामधनी साहू से विवाद चल रहा था। इसके अलावा इसी जमीन पर काम के सिलसिले में अपने पार्टनर नंदलाल साहू से भी मनमुटाव हो गया था। इन दोनों बिदुओं पर पुलिस छानबीन में जुट गई है। प्रारंभिक जांच में यह भी पता चल रहा है कि घटना का शिकार हुए कारोबारी को उसका भतीजा नशा कराने के लिए उस इलाके में ले गया था। पुलिस उसकी भूमिका की भी जांच कर रही है।

स्थानीय लोगों के अनुसार इस गोलीबारी की घटना से पहले ही पूरे इलाके में धर्मदेव साहू पर हमला होने के चर्चे थे। इसकी जानकारी पुलिस को थी। इसके बावजूद पुलिस ने कोई कदम नहीं उठाया, इस बीच घटना घट गई। स्थानीय लोगों का आरोप है कि एयरपोर्ट इलाके में सक्रिय जमीन कारोबारी थाने के संपर्क में रहते हैं। इसी से जमीन माफियाओं का मन बढ़ा है और अपराध की घटनाएं लगातार बढ़ रही है

पुलिस के अनुसार धर्मदेव साहू उर्फ गब्बर का अपराधिक इतिहास रहा है। उसके खिलाफ आ‌र्म्स एक्ट के तीन अलग-अलग मामले दर्ज हैं। वह आ‌र्म्स सप्लायर भी रह चुका है। पुलिस को जानकारी मिली है कि इस घटना को पांच एकड़ जमीन के विवाद में अंजाम दिया गया है। घाघरा नदी के समीप स्थित एक 5 एकड़ जमीन पर कब्जा को लेकर रामधनी साहू से विवाद चल रहा था। इसके अलावा इसी जमीन पर काम के सिलसिले में अपने पार्टनर नंदलाल साहू से भी मनमुटाव हो गया था। इन दोनों बिदुओं पर पुलिस छानबीन में जुट गई है। प्रारंभिक जांच में यह भी पता चल रहा है कि घटना का शिकार हुए कारोबारी को उसका भतीजा नशा कराने के लिए उस इलाके में ले गया था। पुलिस उसकी भूमिका की भी जांच कर रही है।