काल बैसाखी का कहर, आंधी बारिश और ओलावृष्टि से 26 की मौत, कई घायल, भारी नुकसान

0

बिहार: काल बैसाखी में मंगलवार को आई आंधी बारिश और ओलावृष्टि के कारण एक ओर बिहार में फसलों और जानमाल का भारी नुकसान होने की खबर है। दूसरी ओर इस कहर से बज्रपात गिरने से झुलसने से 26 लोगों की जान चली गई है। वहीं कई लोग घायल बताए जाते हैं। बिजली व्यवस्था चरमरा गई है। सड़कों और रेलवे लाइनों पर पेड़ों के गिरने से आवागमन भी बाधित होने की खबर है। सुबह के मुख्यमंत्री नीतीश कुमार ने मृतकों के परिजनों को बतौर मुआवजा 4-4 लाख रुपए देने की घोषणा की है तथा घायलों के लिए इलाज की नि :शुल्क व्यवस्था की है। इस ओलावृष्टि और बारिश से आम लीची और मक्का की फसलों को भारी नुकसान पहुंचने की खबर है।

खबरों के अनुसार फत्तेपुर गांव छोटन यादव और दानिश मियां बधार में मवेशी चराने के दौरान तेज आई आंधी बारिश से बचने के लिए पेड़ के नीचे छुप गए। इसी बीच वज्रपात से उनकी मौत हो गई। मनेर थाना के हाथी टोला गांव,जहानाबाद तथा अरवल जिले में हुए वज्रपात से एक- एक व्यक्ति की मौत की खबर है। वहीं अरवल थाना क्षेत्र के खोखरी में एक व्यक्ति की,मखदुमपुर थाना क्षेत्र के नेवारी गांव मे एक किशोर की मौत हो गई।वहां झुलसने एक किशोर के घायल होने की खबर है।

अन्य खबरों के मुताबिक बिहटा में भी वज्रपात से दो लोगों की मौत हो गई है। जहानाबाद में एक युवक की मौत उस समय हुई जब वह मोबाइल से बात कर रहा था।वज्रपात से घटना स्थल पर ही उसकी मौत हो गई। वहीं घोसी थाना के डहरपुर गांव में खेत में काम कर रहे दामोदर यादव की बिजली गिरने से मौत हो गई। जबकि नालंदा के अस्थावां प्रखंड के कैला पंचायत के सवाद्दीनगर गांव में वज्रपात से एक युवक की मौत हो गई।शेखपुरा के पुरैना गांव में वज्रपात से बर्फी देवी, बांका जिले के कटोरिया थाना क्षेत्र के पपरेवा गांव में वज्रपात से एक 18 वर्षीय युवक अजय कुमार की,बाढ के सादिकपुर में वज्रपात से विकास कुमार 26 की मौत हो गई।

इसके अलावा बिहार शरीफ प्रखंड के कादिर बीघा खंधा में मवेशी चराने के दौरान वज्रपात होने से तीन बच्चे झुलसे लोगों को सदर अस्पताल में भर्ती कराया गया है।

वहीं अन्य खबरों के मुताबिक बेगूसराय जिले के भगवानपुर थाना की जोकिया पंचायत के किशुनदेव महतो के घर पर ठनका गिरा जिसमें इनका मकान क्षतिग्रस्त होने के साथ-साथ से चार बच्चे घायल हो गए हैं।