कोरोना के कारन कांवड़ यात्रा पर लगी रोक,घर बैठे श्रद्धालुवों को बाबा के दर्शन करवाने की तैयारी तेज

- Advertisement -
- Advertisement -

देवघर: कोविड-19 का असर इस वर्ष भी देवघर के प्रसिद्ध मंदिर बाबा बैद्यनाथ धाम में होने वाले श्रावणी मेले पर दिख रहा है। सरकार ने कांवड़ यात्रा पर रोक लगा रखी है। इस लिये जिला प्रशासन ऑनलाइन दर्शन की तैयारी में जुट गया है। सावन आने में महज छह दिन बाकी हैं, ऐसे में श्रद्धालुओं की उत्सुकता बढ़ती जा रही है। पिछले साल की तरह इस बार भी श्रद्धालु बाबा के दर्शन ऑनलाइन कर सकेंगे।

- Advertisement -

बता दे की ऑनलाइन दर्शन के लिए भी स्लॉट निर्धारित किए जाते हैं, जिसे समय रहते बुक करना होता है। यदि स्लॉट की निर्धारित संख्या पूरी हो जाती है तो दूसरे दिन ऑनलाइन बुकिंग की जाएगी। देवघर के उपायुक्त मंजूनाथ भजंत्री ने बताया कि श्रद्धालुओं की सुविधा के लिए अभी तैयारी चल रही है। दो दिनों में झारखंड सरकार जो निर्णय लेगी, उसके अनुसार कार्य किया जाएगा।

- Advertisement -

कोरोना को लेकर मंदिर परिसर में श्रद्धालुओं के प्रवेश पर रोक लगाने के लिए बिहार-झारखंड और बंगाल बॉर्डर पर भी प्रशासन ने बैरिकेडिंग करने का निर्णय लिया है। खासकर सावन में बाहरी श्रद्धालुओं की भीड़ मंदिर तक न पहुंच सके, इसके लिए मंदिर के चहुंओर सभी दरवाजे की बैरिकेडिंग की जाएगी।

हालांकि, इस दौरान स्थानीय पुजारी परंपरागत पूजा कर सकेंगे। इधर, बाहरी श्रद्धालुओं को रोकने के लिए देवघर जिला में प्रवेश करने की सभी सीमा जैसे जमुई, बांका, गिरिडीह, दुमका के बार्डर पर चेक नाका लगाया जाएगा। बताया जाता है कि यहां से देवघर की सीमा में प्रवेश करने वालों को उचित कारण जैसे मेडिकल, शादी या अन्य प्रमाण देना होगा, तभी एंट्री मिलेगी।

2020 में पहली सोमवार को 2 लाख लोगों ने किया था ऑनलाइन दर्शन:- साल 2019 में सावन की पहली सोमवारी पर बाबा धाम पहुचें श्रद्धालुओं की संख्या 1.75 लाख थी। 2020 में कोरोना के कारण बाबा धाम में एंट्री पर रोक लग गई। प्रशासन ने ऑनलाइन दर्शन की व्यवस्था करवाई थी। 2020 में सावन की पहली सोमवारी पर ऑनलाइन दर्शन करने वालों की संख्या 2 लाख से भी ज्यादा पहुंच गई थी। जिला प्रशासन के मुताबिक, सिर्फ देवघर डीसी के सोशल मीडिया पेज पर सोमवार शाम तक एक लाख से अधिक लोग बाबा का दर्शन कर चुके थे। यदि देवघर पीआरडी और राज्य सरकार की वेबसाइट तथा सोशल मीडिया पर दर्शन का आंकड़ा जोड़ें तो 2 लाख से भी ज्यादा लोगों ने सोमवार को बाबा के दर्शन किए।

- Advertisement -

READ THIS ALSO

Related Articles

बच्चे की पोखरा मे डूबने से मौत, परिजनों का रो-रो कर बुरा हाल

गढ़वा : जिले के कांडी थाना क्षेत्र अंतर्गत घोड़दाग गांव निवासी अवध यादव का बड़ा पुत्र 8 वर्षीय कृष्ण कुमार की मौत...

कोवैक्सिन कोरोना के खतरनाक डेल्टा प्लस वैरिएंट पर भी कारगर साबित

इंडियन काउंसिल ऑफ मेडिकल रिसर्च (ICMR) ने सोमवार को दावा किया है कि कोवैक्सिन कोरोना के खतरनाक डेल्टा प्लस वैरिएंट पर भी...

स्कूटी को टेलर ने कुचला,सवार की दर्दनाक मौत

जमशेदपुर: बर्मामाइंस थाना अंतर्गत बर्मामाइंस मुख्य दुर्गा पूजा मैदान के गोल चक्कर के पास अनियंत्रित डंपर संख्या जेएच 05 बी 65039 स्कूटी सवार...
- Advertisement -

Latest Articles

बच्चे की पोखरा मे डूबने से मौत, परिजनों का रो-रो कर बुरा हाल

गढ़वा : जिले के कांडी थाना क्षेत्र अंतर्गत घोड़दाग गांव निवासी अवध यादव का बड़ा पुत्र 8 वर्षीय कृष्ण कुमार की मौत...

कोवैक्सिन कोरोना के खतरनाक डेल्टा प्लस वैरिएंट पर भी कारगर साबित

इंडियन काउंसिल ऑफ मेडिकल रिसर्च (ICMR) ने सोमवार को दावा किया है कि कोवैक्सिन कोरोना के खतरनाक डेल्टा प्लस वैरिएंट पर भी...

स्कूटी को टेलर ने कुचला,सवार की दर्दनाक मौत

जमशेदपुर: बर्मामाइंस थाना अंतर्गत बर्मामाइंस मुख्य दुर्गा पूजा मैदान के गोल चक्कर के पास अनियंत्रित डंपर संख्या जेएच 05 बी 65039 स्कूटी सवार...

भारत का पहला शहर जिसनें 100% वैक्सीनेशन का लक्ष्य किया पूरा,7 महीने मे 18 लाख से ज्यादा वैक्सीन डोज लगाए

ऐजेंसीःओडिशा का भुवनेश्वर शहर 100% वैक्सीनेशन करने वाला देश का पहला शहर बन गया है। यानी यहां 18 साल से ज्यादा उम्र...

धनबाद जज मौत मामले में 243 लोग हिरासत में, 17 गिरफ्तार, 2 पुलिस अधिकारी सस्पेंड

धनबाद : धनबाद जिले में न्यायाधीश उत्तम आनंद की मौत के मामले में पुलिस ने 243 संदिग्धों को हिरासत में लिया और...