कोरोना के भय से लेकव्यू अस्पताल के तीसरे मंजिल से कूदे युवक की रिम्स में मौत

0

रांची: लेक व्यू अस्पताल को प्रशासन के द्वारा सील किए जाने और वहां सभी लोगों को सुरक्षा की दृष्टि से क्वॉरेंटाइन किए जाने के बाद मंगलवार को कोरोना का डर से मंगल कश्यप नामक अस्पताल स्टाफ तीसरे तल्ले से कूद गया। इस घटना में वह गंभीर रूप से घायल हो गया था। जिसे इलाज के लिए रिम्स के कोविड-19 वार्ड में भर्ती कराया गया था। जहां इलाज के दौरान उसकी मौत की खबर है।चर्चा है कि उसकी मानसिक स्थिति भी खराब थी।खबरों के अनुसार अस्पताल के कर्मचारी प्रशिक्षु आईपीएस अधिकारी के पिता रिटायर्ड डीडीसी जो कि बरियातू जोड़ा तालाब इलाके के रहने वाले थे। जो 31 मार्च को नहाने के दौरान बाथरूम में गिर गए थे और उनका ब्रेन हेमरेज हो गया था। उन्हें इलाज के लिए लेक व्यू अस्पताल के आईसीयू में भर्ती कराया गया था। इलाज के दौरान उनकी तबीयत ज्यादा बिगड़ गई उसके बाद 16 अप्रैल को उन्हें एयर एंबुलेंस के जरिए दिल्ली भेजा गया था। वहां की रिपोर्ट कोरोना पॉजिटिव आई जबकि उनकी मौत हो चुकी थी। इस खबर के बाद रांची स्थित लेक व्यू अस्पताल में हड़कंप मच गया है और यहां के स्टाफ मंगल कश्यप कोरोना के खौफ से डर गया क्योंकि लेक व्यू अस्पताल से रिटायर्ड डीडीसी को एयरपोर्ट तक दिल्ली जाने के लिए उसी ने पहुंचाया था।

वहीं दूसरी ओर रिटायर डीडीसी की मौत के बाद 18 अप्रैल को प्रशासन ने सुरक्षा की दृष्टि से लेक व्यू अस्पताल को सील कर दिया और वहां सभी लोगों को क्वॉरेंटाइन कर दिया। साथ ही बरियातू थाना क्षेत्र के उस आवास को भी सील कर दिया गया था। जिसमें रिटायर्ड डीडीसी रहते थे। इसी दौरान मंगल कश्यप खौफजदा था कि उसे भी कोरोना हो गया और उसने अस्पताल के तीसरे तल्ले से छलांग लगा दी और रिम्स के कोविड-19 में इलाज के दौरान उसकी मौत हो गई।

वहीं खबरों के अनुसार प्रशासन ने मृतक के पूरे परिवार जो कि रांची के हुंडरू का रहने वाला है उसकी पूरी स्क्रीनिंग करवाई सभी स्वस्थ् बताए गए हैं।