कोरोना को पूजा-पाठ के उत्सव में बदल कर भद्दा तमाशा बना रहे लोग, अनपढ़ हो या पढ़े-लिखे सभी अंधविश्वास के दलदल में फसे

- Advertisement -
- Advertisement -

खबर– सरिता देवी

- Advertisement -

मझीआंव(गढ़वा) अभी भी लोग अंधविश्वास के दलदल में फंसते नजर आ रहे हैं। आज देश ही नहीं बल्कि पूरा विश्व कोरोना से लड़ रहा है। कोरोना जैसी महामारी से बचने के लिए पूरे विश्व के वैज्ञानिक कोरोना को मात देने के लिए वास्तविक वैक्सीन ढूंढने में लगे हुए हैं। वही कोरोना वायरस महामारी का तीसरे चरण में आने की उनकी रास्ता साफ दिख रही है। गौरतलब हो कि झारखंड, बिहार प्रदेश के अधिकांश लोगों ने कोरोना माई की पूजा कोरोना की द्वितीय चरण में कर रहे थे। महिलाएं झुंड के झुंड बनाकर कोरोना माई की पूजा करने पर उतारू थे। आश्चर्य तो इस बात की है कि सिर्फ अनपढ़ महिलाएं ही नहीं बल्कि पढ़ी-लिखी महिलाएं भी इस पूजा में बढ़-चढ़कर हिसा लिए थे। पूजा पूजा के दौरान कोई सोशल डिस्टेंस का अनुपालन नहीं और ना ही मास का उपयोग कर रहे थे। कई महिलाएं ने पूरी श्रद्धा के साथ कोरोना माई की पूजा कर घर परिवार एवं बच्चे को कोरोना की कहर से बचने के लिए आरजू विनती कर रहे थे। ताकि इस बीमारी से हम लोगों को निजात दिलाई जा सके। कई महिलाएं ने बताई की कोरोना माई की पूजा करने से हवा आएगी और वायरस को भस्म कर देगी। लोग अपनी जान बचाने के ख्याल से कोरोना के बीमारी को दैवीय प्रकोप मानने लगे थे।

- Advertisement -

कहने का तात्पर्य है कि अंधविश्वास एक ऐसा विश्वास है जिसका कोई ओर छोड़ का कारण नहीं होता है। फिर भी लोगों का इस पर अटूट विश्वास बन जाता है। अंधविश्वास हमारे मानव मस्तिक में इतना गहरा समा जाता है। कि हम जीवन भर उसे बाहर निकल नहीं पाते हैं। अंधविश्वास अधिकतर कमजोर व्यक्ति अर्थात कमजोर मानसिकता वाले लोगों मे देखने को मिलता है। जीवन में असफल रहे लोग ही अंधविश्वास पर विश्वास रखने लगते हैं। उन्हें लगता है की ऐसा करने से शायद जीवन में सफल हो जाएंगे। लेकिन नामुमकिन है। और तो और भूत प्रेत में विश्वास रखना एक बहुत बड़ा अंधविश्वास है ही आमतौर पर लोग भूत प्रेत से मिलने या देखने की बात करते रहते हैं। यह लोग सिर्फ लोगों को भरमाते हैं। कई लोगों ने इस महामारी के अंतराल में गो कोरोना गो के नारे भी लगाए। लेकिन क्या यह सब करने से कोरोना भाग गया ? नहीं बल्कि आज कोरोना की स्थिति और भी तेज हो गई है। कोरोना के बढ़ते कदम को लेकर वायरस तीसरे चरण में प्रवेश होते दिखाई दे रही है। देश के कई प्रदेशों में तीसरा चरण प्रवेश हो चुका है। जब भारत समेत पूरी दुनिया कोरोना वायरस से कहर का मुकाबला कर रही थी। तो बड़ी संख्या में लोग पलायन कर अपने घर की ओर लौटने पर मजबूर थे। सैकड़ों लोगों की आने में जान चली गई। ऐसी स्थिति में कोरोना को पूजा-पाठ के उत्सव में बदल देना एक भद्दा तमाशा ही था। लोग अंधविश्वास और मूर्खता के जाल में फंसकर इतना अंधकारमय और पतन सील हो गए हैं ।कि यह कहना मुश्किल है। अंधविश्वास ने हम लोगों को झकझोर कर रख दिया है। लोगों ने कोरोना को भगाने के लिए जमकर थाली पीटा, शंक फूकें ,दीए जलाएं,छठ त्यौहार मनाए यहां तक कि लोगों ने जुलूस निकाले और साथ ही कोरोना माई की विधिवत पूजा पाठ की। आज डिजिटल इंडिया में आज लोगों की मानसिकता कहां चली गई। मानसिकता बदलने की जरूरत है। तभी हम सभी सतर्क होकर एक जुटता का परिचय देते हुए कोरोना वायरस इस महामारी को दूर भगाने में कारगर साबित होंगे।

- Advertisement -

READ THIS ALSO

Related Articles

34 हजार छात्र हुए 12वीं (जैक) में फेल,रिजल्ट से नाखुश हो कर चार हजार स्टूडेंट ने बोर्ड ऑफिस के बाहर जताया विरोध

रांची : इस वर्ष के 12वीं जैक बोर्ड में 4 लाख छात्र शामिल हुए थे। लगभग 34 हजार फेल हो गये हैं।...

बच्चे की पोखरा मे डूबने से मौत, परिजनों का रो-रो कर बुरा हाल

गढ़वा : जिले के कांडी थाना क्षेत्र अंतर्गत घोड़दाग गांव निवासी अवध यादव का बड़ा पुत्र 8 वर्षीय कृष्ण कुमार की मौत...

कोवैक्सिन कोरोना के खतरनाक डेल्टा प्लस वैरिएंट पर भी कारगर साबित

इंडियन काउंसिल ऑफ मेडिकल रिसर्च (ICMR) ने सोमवार को दावा किया है कि कोवैक्सिन कोरोना के खतरनाक डेल्टा प्लस वैरिएंट पर भी...
- Advertisement -

Latest Articles

34 हजार छात्र हुए 12वीं (जैक) में फेल,रिजल्ट से नाखुश हो कर चार हजार स्टूडेंट ने बोर्ड ऑफिस के बाहर जताया विरोध

रांची : इस वर्ष के 12वीं जैक बोर्ड में 4 लाख छात्र शामिल हुए थे। लगभग 34 हजार फेल हो गये हैं।...

बच्चे की पोखरा मे डूबने से मौत, परिजनों का रो-रो कर बुरा हाल

गढ़वा : जिले के कांडी थाना क्षेत्र अंतर्गत घोड़दाग गांव निवासी अवध यादव का बड़ा पुत्र 8 वर्षीय कृष्ण कुमार की मौत...

कोवैक्सिन कोरोना के खतरनाक डेल्टा प्लस वैरिएंट पर भी कारगर साबित

इंडियन काउंसिल ऑफ मेडिकल रिसर्च (ICMR) ने सोमवार को दावा किया है कि कोवैक्सिन कोरोना के खतरनाक डेल्टा प्लस वैरिएंट पर भी...

विवाहिता बेटी के पूर्व प्रेमी को पीटना पड़ा महंगा,पिता पुत्री माता व भाई पर जानलेवा हमला,मृत समझ छोड़ा,एमजीएम में…

चाईबासा: नीमडीह थाना अंतर्गत डुमरी में विवाहित पुत्री के पूर्व प्रेमी को प्रेमिका के पति के द्वारा पिछले कुछ दिन पूर्व पीटना महंगा पड़ा।...

स्कूटी को टेलर ने कुचला,सवार की दर्दनाक मौत

जमशेदपुर: बर्मामाइंस थाना अंतर्गत बर्मामाइंस मुख्य दुर्गा पूजा मैदान के गोल चक्कर के पास अनियंत्रित डंपर संख्या जेएच 05 बी 65039 स्कूटी सवार...