कोरोना पीड़ित की डेड बॉडी अब दफनाई जाएगी शहर के बाहर

0

रांची :रविवार को मृत हिंदपीढ़ी कोरोना संक्रमित बुजुर्ग के शव को कई कब्रिस्तान में लोगों ने दफनाने नहीं दिया काफी मान मनौवल और मशक्कत के बाद 17 घंटे बाद एक कब्रिस्तान में प्रशासन के द्वारा शव को दफनाया गया। इस तरह का मामला सामने आने के बाद झारखंड के हेमंत सोरेन सरकार ने इसे गंभीरता से लिया और एक बड़ा निर्णय लेते हुए कहा कि कोरोना से हुई मौत वाली डेड बॉडी अब शहर के बाहर दफनाए जाएगी। साथ ही कोरोना मरीजों का इलाज कर रहे राज्य के सभी अस्पतालों में अलग से कोविड-2019 शवगृह बनाया जाएगा और कोरोना संक्रमित की मौत होने के बाद दफनाने से पहले उस की डेड बॉडी वहां रखी जाएगी।

मीडिया रिपोर्ट्स के मुताबिक सोमवार को हेमंत सोरेन सरकार की कैबिनेट की बैठक में अन्य मुद्दों के साथ यह भी मुद्दा रखा गया था। झारखंड के स्वास्थ्य मंत्री बन्ना गुप्ता ने मुख्यमंत्री से चर्चा की।जिसमें निर्णय लिया गया। उपायुक्त जिन जगहों को चिह्नित करेंगे, वहीं कोरोना वायरस से हुई मौत के बाद शव दफनाए जाएंगे।बैठक के बाद स्वास्थ्य मंत्री ने सभी उपायुक्तों को शहर के बाहरी इलाके में शव दफनाने के लिए जमीन चिह्नित करने का आदेश दिया।

बता दें रविवार को राजधानी के हिंदपीढ़ी इलाके के एक बुजुर्ग की कोरोना से मौत के बाद उसके शव को दफनाने को लेकर स्थानीय लोग विरोध पर उतारू थे वीर किसी भी कब्रिस्तान में शव दफनाने के खिलाफ थे।