कोरोना वायरस बना और भी घातक खतरा बढ़ा:रांची और जमशेदपुर में मिला यूके और डबल म्यूटेंट का वायरस

0

झारखंड:सारे झारखंड वासियों के लिए बेहद बुरी खबर है। राज्य के दो जिलों रांची और जमशेदपुर में कोरोना का यूके और डबल म्यूटेंट का वायरस पाया गया है। स्वास्थ्य सचिव के के सोन के अनुसार क्षेत्रीय जीनोम सिक्वेंसिंग लेबोरेटरी (आईएलएस) भुवनेश्वर में झारखंड के 39 सैंपल की होल जीनोम सिक्वेंसिंग की गयी थी। इसमें 13 संक्रमितों (8 पुरुष और 5 महिला) के सैंपल में कोरोना के नए किस्म की पुष्टि हुई है। इसमें 11 जहां रांची के हैं, वहीं 2 जमशेदपुर के हैं। रांची के 11 संक्रमितों में 3 में डबल वैरिएंट (बी 1.617) एवं 8 में यूके वैरिएंट (बी 1.1.7) मिला है। दूसरी तरफ जमशेदपुर के दो सैंपल में से 1 में डबल एवं 1 में यूके वैरिएंट मिला है।

1 जनवरी से 20 मार्च के बीच लिए गए थे 52 सैंपल


सचिव ने बताया कि 1 जनवरी से 20 मार्च के बीच राज्य के आरटीपीसीआर लैब से वैसे संक्रमितों के सैंपल लिए गए थे, जिनकी सीटी वैल्यू 25 से कम आयी थी। इनमें कुल 52 सैंपल शामिल थे। इसमें रिम्स से 23, एमजीएम, जमशेदपुर से 18, हजारीबाग से 4, ईटकी से 5 व पलामू से 2 सैंपल लिये गये थे। इन सभी सैंपल को 27 मार्च से 2 अप्रैल के बीच आईएलएस भुवनेश्वर में जीनोम सिक्वेंसिंग के लिए भेजा गया। इनमें से 39 सैंपल की जांच की गयी थी।

टीका लेने के बाद संक्रमित होने वालों की भी सिक्वेंसिंग


स्वास्थ्य सचिव ने बताया कि यूके और डबल म्युटेंट की राज्य में पुष्टि होने के बाद सरकार सतर्क हो गयी है। अब कोविड से मृत्यु होने वाले व्यक्ति एवं टीका लेने के बाद पॉजिटिव होने वाले व्यक्ति के सैंपल की भी जीनोम सिक्वेंसिंग करायी जाएगी। ऐसे सैंपल भी आईएलएस, भुवनेश्वर भेजे जाएंगे।