कोरोना संकट के साथ झारखंड के किस जिले पर मंडरा रहा है एक और बड़ा खतरा.. जानें, कई प्रखंड अलर्ट पर

0

गढ़वा: कोरोना संक्रमण से कराह रहे प्रदेश पर एक और बड़ा खतरा मंडरा रहा है वह है टिड्डी दल का हमला जो कि प्रखंड से लेकर गांव तक के फसलों को नुकसान पहुंचा सकते हैं। इसका खासा असर गढ़वा जिले के कई प्रखंडों पर पड़ने की आशंका जताई गई है। इसके मद्देनजर गढ़वा जिले के कई प्रखंडों को जिला प्रशासन के द्वारा अलर्ट पर रखा गया है। प्रशासन ने अपने अलर्ट में कहा है कि गढ़वा अनुमंडल में कभी भी टिड्डी दल का हमला हो सकता है। जो यहां की लहराती फसलों को पलक झपकते बर्बाद कर सकते हैं। इसलिए एहतियात बरतने की जरूरत है। फसलों को टिड्डियों के हमले से बचाने के लिए कीटनाशक दवाओं का पर्याप्त मात्रा में छिड़काव करने के लिए निर्देश दिया गया है।

खबरों के अनुसार अनुमंडल पदाधिकारी कमलेश्वर नारायण ने सभी प्रखंड विकास पदाधिकारियों को टिड्डियों के हमले की संभावना को देखते हुए अलर्ट रहने के लिए कहा गया है और कहा गया है कि इनका हमला कभी भी हो सकता है। इसके पूर्व फसलों को इन से बचाने के लिए कीटनाशक दवाओं और स्प्रे का पर्याप्त मात्रा में छिड़काव कराया जाए। इसके अलावा कृषि विभाग के जिम्मेवार लोगों को इस संदर्भ में अवगत करा कर कृषकों को जागरूक करने की आवश्यकता है। उन्होंने यह भी कहा खबर यह है कि टिड्डी दल विभिन्न क्षेत्रों में फसलों को नुकसान पहुंचा रहे हैं।

एसडीओ की किसानों से अपील

एसडीओ कमलेश्वर नारायण ने कहा है कि टिड्डी पौधों के हरे हिस्से व उसमें लगे फल, सब्जी व अन्य भाग को चट कर जाते हैं और फसल को बर्बाद कर देते हैं।एसडीओ ने किसानों से एक साथ इकट्ठा होकर टीन के डिब्बे या थाली बजाने, मिट्टी वाले क्षेत्रों में खेतों में जलभराव अथवा धुंआ करने, मैलाथियान, फिप्रोनिल, इमिडा क्लोरपीड, क्यूनालफास या क्लोरपाइरीफास में से किसी एक दवा का विशेषज्ञों से जानकारी लेकर छिड़काव कराने की अपील की है।