क्वॉरेंटाइन सेंटर में घोर असुविधा और गंदगी के खिलाफ लाठी-डंडे लेकर मजदूरों ने किया सड़क जाम

0

गढ़वा: पलामू प्रमंडल स्थित गढ़वा सदर प्रखंड के लगमा बस स्टैंड स्थित सरकारी विद्यालय में क्वारंटाइन सैकड़ों मजदूरों ने सेंटर में व्याप्त अव्यवस्था और घोर असुविधा का आरोप लगाते हुए इसके खिलाफ लाठी, डंडे औऱ ईंट-पत्थर लेकर शनिवार की सुबह सड़क पर उत्तर आए और गढ़वा-नगर ऊंटारी मुख्य मार्ग को डेढ़ घंटे तक जाम कर जोरदार हंगामा किया। इस बात की सूचना गढ़वा सदर वीडियो जागा महतो को मिली तो वे मौके वारदात पर पहुंचे और किसी तरह मजदूरों को यह आश्वासन देते हुए शांत कराया की क्वॉरेंटाइन सेंटर में सुविधाएं बहाल की जाएंगी।

आक्रोशित मजदूरों का कहना है कि अभी तक वे कोरोना पॉजिटिव नहीं है।ऐसे क्वॉरेंटाइन सेंटर में रहे तो जरूर कोरोना पॉजिटिव हो जाएंगे।क्वॉरेंटाइन सेंटर में कचरे का ढेर लगा हुआ है और सुविधाओं का घोर अभाव है। उनलोगों को सुरक्षित उनके घर भेजा जाए। मजदूरों ने यह भी आरोप लगाया कि क्वारेंटाइन सेंटर में कोई व्यवस्था नहीं है।खाने-पीने की सुविधा, साफ-सफाई तो एकदम ही नहीं है। क्वारेंटाइन सेंटर सेनेटाइज नहीं किया गया है। ऐसे में रहना मुश्किल है. प्रशासन के पास फंड औऱ सुविधा नहीं तो उन्हें घर भेज दें। इस हालत में क्वॉरेंटाइन सेंटर में वे रहे तो * पॉजिटिव हो जाएंगे।

मजदूरों ने जिला प्रशासन से मांग है कि उन्हें सुरक्षित अपने गृह जिला में घरों तक पहुंचा दिया जाये।

बहरहाल क्वॉरेंटाइन सेंटर में अलग अलग जगहों के मजदूर हैं जो यूपी के बनारस, छत्तीसगढ़ के रायगढ़ और रांची के कई क्षेत्रों आदि के बताए जा रहे हैं लेकिन क्वॉरेंटाइन सेंटर की ऐसी हालत जिला प्रशासन के क्रियाकलापों पर प्रश्नचिन्ह उठा रहा है!