Advertisement

खुफिया अलर्ट: 2 से 8 दिसंबर तक नक्सली मनाएंगे शहादत दिवस

- Advertisement -

सतीश सिन्हा

जमशेदपुर: शहीद सप्ताह के दौरान माओवादी पश्चिम बंगाल से सटे बिहार और झारखंड के सीमावर्ती इलाकों में अप्रिय घटना को अंजाम दे सकते हैं। इस बात की भनक लगते ही खुफिया विभाग ने अलर्ट जारी करते हुए कहा है कि मेदिनीपुर, झाड़ग्राम, बांकुड़ा और पुरुलिया के जंगल महल इलाकों में दो से आठ दिसंबर तक शहीद सप्ताह मनाने का एलान किया है क्योंकि जंगल महल के कई इलाकों में ऐसे पोस्टर माओवादियों ने लगाये हैं। सूत्रों के अनुसार माओवादियों द्वारा आहूत शहीद सप्ताह के मद्देनजर खुफिया विभाग ने सीआरपीएफ, पुलिस और रेलवे सुरक्षा बल को अतिरिक्त सुरक्षा बरतने के लिए अलर्ट किया है।

खबरों के मुताबिक जंगल महल इलाके में सीआरपीएफ और पुलिस ने सर्च अभियान तेज कर दिया है। सभी चिह्नित इलाकों में पूरी चौकसी बरती जा रही है. बिहार और झारखंड को जोड़नेवाले सड़क-मार्गों पर वाहनों की तलाशी भी ली जा रही है खबरों के अनुसार माओवादी अपना दबदबा और खौफ कायम रखने के लिए राजनीतिक दलों के नेताओं ,सेना या पुलिस की गाड़ियों को निशाना बनाते हैं या रेल पटरियों को निशाना बनाते हैं जिससे ट्रेन दुर्घटनाग्रस्त हो और जान-माल की क्षति हो

खबरों के मुताबिक खुफिया विभाग के अलर्ट के बाद रेलवे के गैंगमैन और ट्रैकमैन को खड़गपुर-गिधनी-चाकुलिया, खड़गपुर-गड़बेता, पुरुलिया-बिरामडीह, पुरुलिया-मुरी, पुरुलिया-पुनदाग और सिउड़ी-अंडाल स्टेशनों के मध्य तमाम रेल ओवरब्रिजों और ट्रैक सहित स्टेशनों पर विशेष नजर रखने को कहा गया है। साथ ही सीआरपीएफ और पुलिस कर्मियों विशेष तकनीक के यंत्रों से रात में विशेष चौकसी बरतने का निर्देश दिया गया है

- Advertisement -

READ THIS ALSO

Jharkhand Varta

Related Articles

- Advertisement -

Latest Articles