चाचा ने भाभी एवं भतीजी को घर से निकाला

0

संवाददाता:-प्रविन्द पाण्डे

मुरी :-7 अप्रैल मुरी ओपी थाना क्षेत्र में छोटा मुरी बाजार में मां सुषमा पाल एवं पुत्री प्रमिता पाल को प्रशासन की मौजूदगी में घर से निकाला गया। इस संबंध में 6 वर्ष पहले अरविंद पाल द्वारा रांची न्यायालय में मामला दर्ज किया गया था। इस मामले का अरविंद पाल के पक्ष में आया।जिसको लेकर बुधवार को रांची न्यायालय, मुरी ओपी एवं सीओ की मौजूदगी में घर को खाली कराया गया। सुषमा पालक बेघर हो गई। जो देर शाम तक झारखंड में स्थित किराए के मकान में चली गई। श्रीमती पाल ने बताया कि मेरे पति चार भाई थे जिसका बंटवारा लगभग 20 वर्ष पहले हो गया था। मैं अपनी पुत्री की शादी के लिए रुकी हुई थी। तत्पश्चात में घर खाली कर देती। लेकिन मेरे देवर द्वारा जबरदस्ती मुझे खाली करा दिया गया।