जानिए क्यों प्रियंका चोपड़ा ने झारखंड की सीमा की तारीफ़

0

रांची- सीमा ओरमांझी की रहने वाली है। गरीब परिवार में जन्मी सीमा के पिता खेती और धागा मिल में काम करते हैं। सीमा ने साल 2012 में युवा फुटबॉल टीम जॉइन किया और इसके बाद सीमा ने बाल विवाह के खिलाफ झंडा उठा लिया। शिक्षा के अधिकार के लिए आवाज उठाने के साथ-साथ सीमा कई सालों तक फुटबॉल खेलती रही। शॉर्ट्स पहनने को लेकर मजाक उड़ाए जाने के बावजूद सीमा ने कभी हार नहीं मानी, वह खेलती रहीं। अब वह अपने परिवारी की पहली ऐसी लड़की होगी जो हार्वर्ड यूनिवर्सिटी में पहुंचेगी।प्रियंका चोपड़ा ने सीमा की तारीफ करते हुए एक तस्वीर अपने सोशल अकाउंट पर शेयर की है। प्रियंका चोपड़ा ने ट्विटर पर पर युवा इंडिया द्वारा सीमा की कहानी साझा की और उनकी पोस्ट को कैप्शन दिया, ‘लड़की को शिक्षित करें और वह दुनिया को बदल सकती है … ऐसी प्रेरणादायक उपलब्धि। शानदार सीमा, मैं यह देखने के लिए बेचैन हूं कि तुम आगे क्या करती हो।’