जिले में पहला मरीज आज कोरोना से जंग में जीता, डीसी और एसपी ने गुलदस्ता देकर किया विदा

0

जमशेदपुर: टीएमएच के कोविड वार्ड में भर्ती 1 कोरोना मरीज तथा एक अन्य संक्रमित के नजदीकी संपर्क में आए एक व्यक्ति की जांच रिपोर्ट नेगेटिव आने के बाद आज दोनों को अस्पताल से डिस्चार्ज कर दिया गया। वार्ड से बाहर आते ही दोनो का तालियों से स्वागत किया गया तथा उपायुक्त एवं वरीय पुलिस अधीक्षक द्वारा गुलदस्ता देते हुए हर्ष के माहौल में उन्हें घर के लिए विदा किया गया।

उपायुक्त रविशंकर शुक्ला ने इस अवसर पर मीडियाकर्मियों को संबोधित करते हुए कहा कि कोरोना संक्रमित व्यक्ति के प्रति किसी भी प्रकार की नकारात्मक भावना हमें नहीं रखनी चाहिए। उन्होने कहा कि मीडिया के माध्यम से जिलेवासियों से अपील करना चाहूंगा कि जो भी लोग बाहर से आ रहे हैं उसकी सूचना जिला प्रशासन को अवश्य दें ताकि हम अपनी सर्विलांस टीम के माध्यम से उनकी मॉनिटरिंग कर सकें। बाहर से आने वाले लोगों से भी आग्रह है कि जिला प्रशासन के संस्थागत क्वारंटाइन सेंटर में रहने का प्रयास करें वहीं कोई अगर होम क्वारंटाइन में रहना चाहते हैं तो इसके नियमों का कड़ाई से अनुपालन करें। इस मौके पर उपायुक्त ने सभी चिकित्सक एवं स्वास्थ्य कर्मियों तथा जिला प्रशासन की पूरी टीम को शुभकामनाएं एवं बधाई दी।

वरीय पुलिस अधीक्षक श्री एम. तमिल वाणन ने कहा कि चिकित्सा एवं स्वास्थ्य कर्मियों की कड़ी मेहनत की बदौलत आज दोनों बिल्कुल स्वस्थ हैं। कोरोना सरवाईवर का जिला प्रशासन द्वारा आवश्यक सुविधाओं के साथ उचित तरीके से ख्याल रखा गया। जिले के सभी कोरोना संक्रमित के जल्द स्वस्थ होने की कामना करते हुए उन्होने कहा कि जिला प्रशासन का प्रयास है कि जल्द से जल्द सभी कोरोना संक्रमित स्वस्थ होकर अपने घर जा सकें। आज डिस्चार्ज किए जा रहे दोनों लोगों के घर के आसपास अगले 3-4 दिनों के लिए कंटेनमेन्ट जोन रहेगा।

मौके पर टीएमएच के जीएम डॉ. राजन चौधरी द्वारा होम क्वारंटाइन में रहने के दौरान क्या सावधानियां बरती जानी है इसकी जानकारी दोनों को दी गई। उन्होने मास्क एवं सैनिटाइजर का प्रयोग, सामाजिक दूरी का अनुपालन और स्वच्छता पर विशेष रूप से ध्यान देने की बात कही। उन्होने कहा कि दोनों लोग अब बिल्कुल स्वस्थ हैं। यह क्षण हमारे लिए खुशी की बात है। वहीं कोरोना सरवाईवर ने ईश्वर का धन्यवाद तथा चिकित्साकर्मियों एवं जिला प्रशासन का आभार जताते हुए कहा कि सभी के कड़ी मेहनत से आज हम स्वस्थ हुए हैं। संक्रमण मक्त हुए मरीज ने कहा कि उन्होने सकारात्मक सोच बनाए रखा जिससे कोरोना के खिलाफ लड़ाई में उन्हें सफलता मिली। उन्होंने जिलेवासियों से अपील करते हुए कहा कि कोरोना वायरस के संक्रमण से बचाव के लिए सबसे जरूरी है अपने घरों में रहना। कोविड-19 के विरुद्ध लड़ाई में जिला प्रशासन का सहयोग करें, अनावश्यक अपने घरों से बाहर नहीं निकलें।

इस अवसर पर सिविल सर्जन डॉ. महेश्वर प्रसाद, टाटा स्टील मेडिकल सर्विसेज के जीएम डॉ. राजन चौधरी तथा अन्य चिकित्सक उपस्थित रहे।