जिले में हाई स्पीड में है कोरोना, संक्रमितों में नये लक्षण जानें क्या…

0

जमशेदपुर : पूर्वी सिंहभूम जिले में कोरोना पीड़ितों के मामले में तेजी से बढ़ोतरी के मद्देनजर जिला प्रशासन अलर्ट मोड में है। कोरोना के बढ़ते संक्रमण से निपटने के लिए जिला प्रशासन 1 वर्ष पूर्व जैसी तैयारी शुरू कर दी है। उपायुक्त सूरज कुमार ने जिले में 25 इंसीडेंट कमांडर की प्रतिनियुक्ति करते हुए नियमों का सख्ती से पालन कराने का आदेश दिया है। सीनियर इंसीडेंट कमांडर एसडीओ नीतीश कुमार सिंह और सतवीर रजक को बनाया गया है। जिले स्तर पर जिम्मेवारी एडीएम नंदकिशोर लाल को सौंपी गई है। डीसी यह आदेश में कहा है कि बिना मास्क बाजार में कोई भी पाया जाता है तो उसकी तत्काल कोरोना जांच कर संक्रमित पाए जाने पर संबंधित व्यक्ति को होम क्वॉरेंटाइन में भेजा जाएगा। यदि उसके घर में अतिरिक्त शौचालय और कमरा नहीं होने पर उसे प्रशासनिक कोविड सेंटर में 7 दिन तक रखा जाएगा।

एक ओर संक्रमण से बचने के लिए जागरूकता अभियान में तेजी लाई गई है। पिछले तीन दिनों में 125 से ज्यादा कोरोना संक्रमित पाए गए हैं। जबकि जिले में कोरोना जांच की गति बढ़ाई गई है।

कोरोना संक्रमण के नए लक्षण

मीडिया रिपोर्ट्स के मुताबिक भारत सरकार के कोविड नेशनल रिसर्च टास्क फोर्स के चेयरमैन डॉक्टर नरेंद्र अरोड़ा का कहना है कि कोरोना संक्रमण के शुरुआती दौर में बुखार, जुकाम, खांसी जैसे लक्षण आम थे।तब तब इस बीमारी के बारे में इतनी समझ भी नहीं थी। अब हम देख रहे हैं कि डिहाइड्रेशन, उल्टी दस्त, जोड़ों का दर्द ,बॉडी ऑर्गन का कम काम करना, हृदय कमजोर होना, फेफड़ों की क्षमता घटना जैसे कई तरह के लक्षण नए कोरोना संक्रमितों में मिल रहे हैं। यदि किसी को उल्टी दस्त की शिकायत हो तो उसे कोरोना जांच जरूर करा लेना चाहिए।

दूसरी ओर पूर्वी सिंहभूम जिला के जिला चिकित्सा पदाधिकारी डॉक्टर ए के लाल का कहना है कि नए संक्रमितों में बदन दर्द के लक्षण ज्यादा पाए जा रहे हैं।ऐसे लक्षण पाए जाने पर डॉक्टर से सम्पर्क कर अपनी जांच कराएं, जिससे संक्रमण को फैलने से रोका जा सके।

जिला चिकित्सा पदाधिकारी का कहना है कि कोरोना के दूसरे वेव में संक्रमण अधिक फैल रहा है।शहर में संक्रमितों की संख्या भी बढ़ रही है।उन्होंने ये भी बताया कि प्रचार-प्रसार के माध्यम से लोगों को कोविड-19 के गाइड लाइन का पालन पूरी तरह करने की अपील की जा रही है। संक्रमण ना फैले इसके लिए उन्हें सावधानी बरतने को कहा जा रहा है।