जेल से ही कारा के कक्षपाल की हत्या की हुई थी साजिश, दो पिस्तौल,8 गोली के साथ चार धराए

0

साहिबगंज: साहिबगंज कारा के कक्षपाल रजनीश चौबे की सख्ती से बौखलाए राजमहल कारा में ही बंद कुख्यात अपराधी कृष्णा मंडल ने उनकी हत्या की साजिश जेल में ही रच दी और 30 अप्रैल की रात मंडल कारा के कक्षपाल रजनीश चौबे को आजाद नगर क्षेत्र में तीन नकाबपोश अपराधियों के द्वारा उन पर जानलेवा हमला करा दिया। इस घटना में गोली लगने से वे घायल हो गए थे और उन्हे साहिबगंज सदर अस्पताल में प्राथमिक उपचार के बाद उसे भागलपुर मेडिकल कॉलेज रेफर कर दिया गया लेकिन भागलपुर इस अस्पताल में कोरोना पीड़ितों का इलाज चलने के चलते पीएमसीएच पटना रेफर कर दिया गया। पुलिस ने इस मामले का उद्भेदन करते हुए चार अपराधियों को धर दबोचा। जिनके पास से दो देसी पिस्तौल 8 जिंदा कारतूस सैमसंग के 2 मोबाइल फोन समेत घटना में इस्तेमाल किए जाने वाले बाइक और कुछ सामग्री बरामद किए गए हैं।

गिरफ्तार अपराधियों में विष्णु मंडल, बबलू मंडल, दीपक रविदास और धर्मेंद्र यादव शामिल हैं।

मीडिया रिपोर्ट्स के मुताबिक कक्षपाल रजनीश चौबे की कड़ाई से तंग साहिबगंज जेल में बंद कुख्यात अपराध कर्मी कृष्णा ने अपने भाई विष्णु मंडल के सहयोग से कक्षपाल रजनीश पर जानलेवा हमला कराया था।

बता दें कि कक्षपाल रजनीश पर नकाबपोश अपराधियों ने आजाद नगर थाना क्षेत्र में 30 अप्रैल को जानलेवा हमला किया था और फरार हो गए थे। इस दौरान अपराधियों ने लोगों की पकड़ से बचने के लिए बम भी फेंका था। पुलिस ने मौके वारदात से बम के अवशेष गोली और खोखे बरामद किए थे।

बता दें कि हत्या, लूट, अपहरण, आर्म्स एक्ट सहित दर्जनों मामलों में वांछित कुख्यात कृष्णा मंडल को पुलिस ने बीते 3 जनवरी फरीदाबाद में गिरफ्तार कर लिया था.

बता दें कि कृष्णा पुलिस कस्टडी में इलाज के दौरान रांची से पुलिसकर्मियों को छका कर भागने में सफल हो गया था। फिर 3 जनवरी को पुलिस ने उसे फरीदाबाद से दबोच लिया था। कृष्णा मंडल हत्या लूट अपहरण और आर्म्स एक्ट जैसे दर्जनों संगीन मामलों वांछित है।