झारखंड सरकार का फैसला फिर से एक बार स्कूल कॉलेज सहित कई चीजें बंद और जानें क्या-क्या है नए गाइडलाइंस

0

रांची: प्रदेश में बढ़ते कोरोना संक्रमण पर अंकुश लगाने के लिए झारखंड सरकार एक बार फिर से और गंभीर हो गई। मंगलवार की संध्या मुख्यमंत्री हेमंत सोरेन की अध्यक्षता में आपदा प्रबंधन और स्वास्थ्य विभाग की बैठक में करुणा से निपटने के लिए कई महत्वपूर्ण निर्णय लिए गए। जिनमें मुख्य रुप से मंगलवार की शाम जारी आदेश के अनुसार राज्‍य में सभी सरकारी व निजी स्कूल, कॉलेज, जिम, पार्क, सिनेमा हॉल, स्वीमिंग पुल को अगले आदेश तक के लिए बंद रखने का आदेश दे दिया गया है। इसके अलावे बैठक में रात के आठ बजे से सुबह छह बजे तक नाइट कर्फ्यू लागू कर दिया गया है। धार्मिक स्थल व रेस्टोरेंट में कुल क्षमता के सिर्फ 50 फीसदी ही उपस्थिति रहेगी।

बता दें कि पूर्व में कक्षा 8 से ऊपर की कक्षाओं को चलाने की अनुमति ऑफलाइन दी गई थी लेकिन नए आदेश के मुताबिक मंगलवार से इस पर रोक लगा दी गई है। स्कूलों को ऑनलाइन क्लासेज के माध्यम से छात्रों को पढ़ाने की बात कही गई है।

दूसरी ओर यह भी निर्णय लिया गया कि पूर्व से निर्धारित सभी परीक्षाएं होंगी, उसके लिए परीक्षार्थियों के प्रवेश पत्र को ही पास माना जाएगा। उन्हें कोरोना वायरस को लेकर जारी गाइडलाइंस का पालन करना होगा।

मुख्यमंत्री हेमंत सोरेन की अध्यक्षता में मंगलवार को प्रोजेक्ट भवन में आयोजित उच्च स्तरीय समिति की बैठक में यह निर्णय लिया गया है। इस बैठक में स्वास्थ्य एवं आपदा विभाग के मंत्री बन्ना गुप्ता, मुख्य सचिव सुखदेव सिंह, स्वास्थ्य सचिव केके सोन, आपदा सचिव डाॅ. अमिताभ कौशल भी मौजूद रहे।

गौरतलब हो कि प्रदेश में इस बार कोरोना के दूसरी लहर में कोरोना के मामले तेजी से बढ़ रहे हैं। जो पिछले वर्ष की अपेक्षा काफी तेजी से बढ़ रहे हैं जिसके चलते प्रदेश सरकार ने सख्ती बरतनी शुरू कर दी है।