टीएमसी कार्यकर्ताओं की कथित पिटाई से घायल बीजेपी कार्यकर्ता की मां की मौत,सियासत और गरमाई

0

कोलकाता: पश्चिम बंगाल में चुनाव के दौरान टीएमसी और भारतीय जनता पार्टी के बीच चल रही सियासी घमासान में एक और उफान आ गया।जब कुछ दिनों पहले बीजेपी कार्यकर्ता गोपाल मजूमदार की 85 वर्षीय मां शोवा मजूमदार की गुंडों ने पिटाई कर दी थी। जिनका इलाज चल रहा था और सोमवार को उनकी मौत हो गई। जिसके बाद से बीजेपी नेता टीएमसी और ममता बनर्जी पर हमला बोल दिया है। वहीं ममता बनर्जी ने भी शोवा मजूमदार की मौत पर दुख प्रकट करने के साथ साथ बीजेपी पर पलटवार कर दिया है।

बता दें कि गोपाल ने इस घटना के लिए टीएमसी कार्यकर्ताओं को जिम्मेदार ठहराया था। साथ ही शोवा की फोटो भी सोशल मीडिया पर जमकर वायरल हुई थी।उत्तर 24 परगना जिले के निमटा के बीजेपी कार्यकर्ता गोपाल मजूमदार का आरोप है कि उनको इसलिए पीटा गया कि वो पार्टी के लिए काम करते हैं। इस घटना में उनके सिर और हाथ पर चोटें आईं। मारपीट के दौरान बदमाशों ने उनकी मां शोवा को भी धक्का दिया, जिसमें वो घायल हो गईं।

वहीं एक ओर अमित शाह ने शोवा के घर की फोटो ट्वीट करते हुए लिखा कि बंगाल की बेटी के निधन से दुखी हूं, जिन्हें टीएमसी के गुंडों ने बेरहमी से पीटा था। उनके परिवार का दर्द और घाव लंबे समय तक ममता दीदी को परेशान करेगा। बंगाल कल हिंसा मुक्त भारत के लिए लड़ेगा, बंगाल हमारी बहनों-माताओं के लिए एक सुरक्षित राज्य की लड़ाई लड़ेगा।

दूसरी ओर नंदीग्राम में एक चुनावी रैली में ममता ने कहा कि मुझे नहीं पता महिला का निधन कैसे हुआ, लेकिन मैं महिलाओं पर होने वाली हिंसा के खिलाफ हूं। अमित शाह ट्वीट करके कहते हैं कि बंगाल का क्या हाल है, लेकिन उनसे पूछिए कि यूपी के क्या हालात हैं? हाथरस के क्या हालात हैं। वहीं शुवेंदु अधिकारी पर हमला करते हुए उन्होंने कहा कि बहुत ज्यादा लालच अच्छी बात नहीं है, वो ना घर के रहे ना घाट के।