डालसा ने सड़क दुर्घटना में घायलों की मदद के लिए नेक नागरिकों को प्रेरित करने के लिए कार्यशाला आयोजित की

0

जमशेदपुर:डालसा,न्याय सदन,सिविल कोर्ट,जमशेदपुर में सचिव महोदय नितेश निलेश सांगा ने सभी पी.एल.भी. को झारखंड सरकार के द्वारा सड़क दुर्घटना में प्रभावित घायल व्यक्तियों के मदद के लिए नेक नागरिकों को प्रेरित करने के उद्देश्य से Jharkhand Good Samaritan Policy,2020 ज्यादा से ज्यादा लोगों को जागरुक करने के लिए प्रशिक्षण कार्यशाला आयोजित किया।

इस मौके पर उन्होंने बताया कि झारखंड राज्य में सड़क दुर्घटना में घायल व्यक्तियों की मृत्यु दर अधिक है सड़क दुर्घटना में घायल व्यक्तियों की जीवन रक्षा तथा अंग की हानि कम करने हेतु golden hours(प्रथम 60 मिनट) में उपचार सर्वाधिक प्रभावी होती है जिसके लिए घायल व्यक्तियों का golden hours में निकटवर्ती अस्पताल में ले जाना अति आवश्यक है आम नागरिक पुलिस के सवाल जवाबों एवमं कानूनी प्रक्रिया में उलझनों के डर से अस्पताल पहुंचाने की इच्छा रहने के बावजूद भी वे प्रयास नहीं करते हैं आम नागरिकों को प्रोत्साहित तथा जागरूक करने की आवश्यकता है घायल व्यक्तियों को ले जाने नागरिक पुलिस को अपनी पहचान बताने के लिए बाध्य नहीं कर सकती है मरीज को अस्पताल में पहुंचाने के बाद में अनावश्यक रोका नहीं जा सकता है सवाल जवाब के क्रम में पुलिस द्वारा संज्ञान भी नहीं लिया जाएगा झारखण्ड के स्थापना अधिनियम के तहत पंजीकृत सभी निजी और सार्वजनिक स्वास्थ्य सुविधा कानूनी रूप से सड़क दुर्घटना के शिकार लोगों के ईलाज के लिए बाध्य होंगी तथा डॉक्टरों, पुलिसकर्मियों, सरकारी कर्मचारियों को जिम्मेदारी है कि तुरंत सहयोग करें आम नागरिकों को सरकार के द्वारा निर्धारित पुरस्कार राशि एवमं इसके अलावा DC/DTO द्वारा प्रत्येक मामले में एक अच्छा प्रमाण पत्र प्रदान किया जाएगा को बताया गया।