तीसरे चरण के लॉकडाउन और प्रवासियों की वापसी का श्रेय लेने के मामले पर सीएम हेमंत बोले… जानें

0

रांची: केंद्र सरकार के द्वारा कोरोना काल में लॉक डाउन 3 की घोषणा होने के बाद झारखंड के मुख्यमंत्री हेमंत सोरेन ने फिलहाल 3 मई तक राज्य में पुरानी मौजूदा व्यवस्था कायम रहने की बात करते हुए कही कि झारखंड सरकार लॉकडाउन के तीसरे चरण के लिए केंद्र सरकार के द्वारा दिए गए दिशानिर्देशों का पहले अध्ययन करेगी। उसके बाद प्रदेश में कोरोना वायरस संक्रमण को देखते हुए नया दिशा निर्देश जारी किया जाएगा।

उक्त बातें झारखंड के सीएम हेमंत सोरेन ने हैदराबाद से लौट रहे प्रवासी मजदूरों के लिए हटिया स्टेशन पर व्यवस्था का जायजा लेने के दौरान मीडिया के समक्ष कही। उन्होंने कहा की स्टेशन पर व्यवस्था संतोषजनक है प्रवासियों का पहला जत्था आने वाला है। यदि कुछ कमी दिखेगी तो उसका अध्ययन कर उसको दूर किया जाएगा। इस दौरान उनके साथ मुख्य सचिव सुखदेव सिंह और प्रधान सचिव राजीव अरुण एक्का और रांची के उपायुक्त आदि मौजूद थे।

वहीं दूसरी ओर मुख्यमंत्री ने प्रवासी मजदूरों का श्रेय लेने के मामले में कहा कि यह वक़्त प्रवासी मजदूरों की सुरक्षित और सकुशल वापसी में लगने का है। इसमें राजनीति की जगह नहीं है। प्रवासी मजदूरों के लौटने का श्रेय लेने वाले गले में माला डाल कर घूमते रहे। सरकार ऐसे लोगों का भी स्वागत करेगी।