दिल्ली की टीम पंहुची कस्तूरबा विद्यालय, फरार चल रही नर्स गिरफ्तार

0

ख़बर – सरिता देवी
मझिआंव : राष्ट्रीय बाल संरक्षण अधिकार आयोग नई दिल्ली की टीम ने मंगलवार को शुबह 10 बजे मझिआंव स्थित कस्तूरबा गांधी आवासीय विद्यालय का निरीक्षण किया। इस दौरान आयोग की अध्यक्षा ने विद्यालय की छात्राओं एवं शिक्षिकाओं से बयान लिया। लगभग दो घंटे जांच के बाद टीम बरडीहा थाना क्षेत्र के ओबरा गांव स्थित पीड़ित छात्रा के घर पर जाकर मिली और बातचीत की।

इस दौरान गांव के पहले ही प्रेस प्रतिनिधियों को रोक दिया गया। साथ ही फोटो लेने एवं कोई बयान देने से भी मना किया गया। लगभग एक घंटे जांच के बाद टीम ओबरा मुखिया फूलमती देवी से मिली और विस्तृत जानकारी ली। इसके बाद टीम वापस लौट गई। इस अवसर पर जांच के दौरान CWC के चेयरमैन उपेंद्र द्विवेदी, सदस्य संजय कुमार, डीएसपी ,इंस्पेक्टर हरिकिशोर मंडल, थाना प्रभारी रणविजय सिंह उपस्थित थे।

नर्स निर्मला देवी गिरफ्तार

इस मामले में संलिप्त A ग्रेड नर्स निर्मला देवी फरार चल रही थी, जिसे मंझिआव थाना प्रभारी रणविजय सिंह के द्वारा उसके मायके चंदवा टोरी से गिरफ्तार कर लिया है।

क्या है पूरा मामला?

गढ़वा जिले के मझिआंव प्रखंड में स्थित कस्तूरबा गांधी बालिका आवासीय विद्यालय में पढ़ने वाली 14 वर्षीया आठवीं क्लास की छात्रा के मां बनने का खुलासा होने से शिक्षा विभाग में हड़कंप मच चूका था। खबर के मुताबिक छात्रा ने इसी वर्ष 28 जून को मझिआंव रेफरल अस्पताल में एक बच्चे को जन्म दिया था । बच्चा एक एएनएम के पास था। इधर छात्रा की मां बनने की खबर फैलते ही शिक्षा विभाग के अधिकारियों के हाथ-पांव फूलने लगे थे।