दूसरी पत्नी के कहने पर 7 वर्षीय मासूम का गला घोंटा,जंगल में छुपाया,शव बरामद,पति-पत्नी गिरफ्तार

0

जमशेदपुर : पोटका थानान्तर्गत मतकमडीह में एक सनसनीखेज मामला प्रकाश में आया है।जहां दूसरी पत्नी के कहने पर पति ने अपने पहले पत्नी के 7 वर्षीय पुत्र को बहला फुसलाकर जंगल में ले गया और वहां उसकी गला घोंटकर हत्या करने के बाद शव वहीं जंगल में छुपा कर घर आ गया। इस बात का खुलासा तब हुआ जब उसके दादा शंकर सोरेन के पास ही बच्चा सोता था लेकिन 2 दिनों तक उसके नहीं मिलने के बाद उसके दादा ने अपने पुत्र मार्शल सोरेन और उसकी दूसरी पत्नी कर्मी सोरेन से इस बाबत पूछा तो वह कुछ भी नहीं बोल रहा था। उसके बाद दादा शंकर सोरेन ने पोटका पुलिस को अवगत कराया और हत्या का शक मार्शल और कर्मी पर लगाया। उसके बाद पुलिस ने मार्शल और कर्मी को हिरासत में लेकर पूछताछ किया तो मामले का खुलासा हो गया। उन्हें गिरफ्तार कर कोर्ट भेज दिया गया है। पुलिस ने उनकी निशानदेही पर 7 वर्षीय मासूम का शव बरामद कर लिया। शव को पोस्टमार्टम हेतु एमजीएम भेज दिया गया है।

प्राप्त जानकारी के अनुसार मार्शल सोरेन के पुत्र का नाम दादा के नाम से ही शंकर सोरेन रखा गया था। जिसकी हत्या पत्नी के कहने पर मार्शल सोरेन ने कर दी।

पोटका थाना प्रभारी के मुताबिक सात वर्षीय शंकर अपने दादा के पास सोता था।दो दिनों से शंकर गायब था। दादा ने मार्शल और कर्मी सोरेन से भी पूछा, लेकिन वह कुछ नहीं बताए तो दादा ने पुलिस को इस मामले से आगाह कराया और पुलिस ने छानबीन कर मार्शल उसकी दूसरी पत्नी को हिरासत में लिया पूछताछ में मार्शल ने बताया कि शंकर उसकी पहली पत्नी का बेटा था। पहली पत्नी के मरने के बाद उसने दूसरी शादी कर्मी से कर ली।शादी के बाद से दूसरी पत्नी उसे शंकर को मारने का दबाव बनाने लगी। वह शंकर को अपने साथ नहीं रखना चाहती थी। इस बात को लेकर पति पत्नी के बीच झगड़ा भी होता रहता था। शुक्रवार को मार्शल अपने सात वर्षीय बेटे को बहला-फुसलाकर घर से थोड़ी दूर स्थित जंगल में गया और शंकर की गला दबाकर हत्या कर दी। उसके बाद शंकर के शव को जंगल में छुपा कर लौट आया। दादा को जब शंकर सोरेन नहीं मिला तो उन्होंने पुलिस को सूचित किया।