नगर पंचायत अध्यक्ष ने फुटपाथ दुकानदारों के लिए मांगी 2 महीने की मोहलत

0

ख़बर – सरिता देवी

मझीआंव : शहर के मुख्य बाजार परीक्षेत्र के पथ के दोनों किनारे गरीब तबके के फुटपाथ दुकानदार स्थाई दुकान के अभाव में अस्थाई दुकान लगाकर किसी तरह अपने बाल बच्चों का पेट भरने का काम करते आ रहे हैं। अंचलाधिकारी राकेश सहाय द्वारा फुटपाथ दुकानदारों पर अतिक्रमण के दायरे से दुकान हटाने का सख्त निर्देश दिया गया है। जबकि इस मौसम में गरीब फुटपाथ दुकानदारों को लगभग 2 महीने तक के लिए वैकल्पिक व्यवस्था ढूंढने तक अंचल के प्रशासनिक अधिकारियों को राहत देना चाहिए।
उक्त बातें नगर पंचायत अध्यक्ष सुमित्रा देवी ने अंचलाधिकारी राकेश सहाय के नाम से गरीब दुकानदारों के लिए समस्या ग्रस्त पत्र भेज कर समय सीमा बढ़ाने की मांग किया है। भेजे गए पत्र में उल्लेख किया गया है कि क्षेत्र में ठंड का प्रकोप है। कन कनी बढ़ी हुई है और फुटपाथ दुकानदारों का कोई सरकारी वैकल्पिक व्यवस्था नहीं है। गरीब फुटपाथ दुकानदार काफी परेशान है।
बाजार पथ में जाम से निपटने में कोई परेशानी नहीं हो इसके लिए नगर पंचायत कार्यालय के द्वारा बाईपास सड़क के माध्यम से छोटी बड़ी वाहनों को परिचालन करवाने का उपाय ढूंढा जा रहा है। साथ ही बाजार समिति परिसर को नगर विकास सह आवास विभाग के हस्तांतरित करने के लिए राज्य सरकार समेत संबंधित विभाग के पदाधिकारियों को पत्रचार करवाने की बात कही। ताकि जर्जर बाजार समिति मे नए-नए दुकान बनवा कर सरकारी दर पर फुटपाथ दुकानदारों को आवंटित किया जा सके। जिससे गरीब फुटपाथ दुकानदार अपने बाल बच्चों का परवरिश कर सके।