पंचायत चुनाव : अंतर्राज्यीय सीमा पर विशेष निगरानी एवं सर्तकता की आवश्यकताः आयुक्त

- Advertisement -

पलामू:-त्रिस्तरीय पंचायत (आम) निर्वाचन, 2022 के दौरान विधि-व्यवस्था एवं शांतिपूर्ण निर्वाचन संपन्न कराने को लेकर प्रशासनिक कवायद तेज हो गयी है। शांतिपूर्ण एवं निष्पक्ष निर्वाचन कार्य को लेकर आज पलामू के प्रमंडलीय आयुक्त जटा शंकर चौधरी एवं पुलिस उप महानिरीक्षक राजकुमार लकड़ा ने संयुक्त रूप से पलामू प्रमंडल के जिलों एवं झारखंड के सीमावर्ती क्षेत्रों में विधि-व्यवस्था की समीक्षा की।

पलामू के समाहरणालय सभागार में आयोजित अंतर्राज्यीय समीक्षात्मक बैठक में पलामू प्रमंडल के तीनों जिले पलामू, गढ़वा एवं लातेहार सहित सीमावर्ती अंतर्राज्यीय जिले औरंगाबाद, रोहतास, सोनभद्र, दुधी, बलरामपुर, गया के पदधिकारियों ने भाग लिया।

आयुक्त ने पलामू प्रमंडल के पदाधिकारियों एवं सीमावर्ती अंतर्राज्यीय जिलों के पदाधिकारियों को समन्वय स्थापित करते हुए अंतर्राज्यीय सीमा पर विशेष निगरानी एवं सर्तकता बरतने का निदेश दिया। चुनाव के मद्देनजर प्रमंडल क्षेत्र के जिले एवं अंतर्राज्यीय जिलों में विशेष सख्ती रखने, गड़बड़ी की आशंका या गड़बड़ी की शिकायत पर संबंधित अराजक एवं असमाजिक तत्वों के खिलाफ सख्त कार्रवाई करने तथा अंतर्राज्यीय जिलों से उम्मीदवार या उनके समर्थकों द्वारा असमाजिक तत्वों के बुलाकर मतदान को प्रभावित करने की कोशिश करने वालों के खिलाफ त्वरित कार्रवाई करने, बॉर्डर चेक पोस्ट को क्रियाशील करते हुए विशेष चेकिंग अभियान चलाने का निदेश दिया।

उन्होंने आपराधिक गतिविधियों पर रोक लगाने के लिए समन्वय के साथ अभियान चलाने की बातें कही। अंतर्राज्यीय सीमा से आने वाले व्यक्तियों को बॉर्डर चेक पोष्ट पर सख्ती से जांच करने एवं मुख्य सड़क से छोड़कर ग्रामीण क्षेत्र में इधर-उधर से भी प्रवेश करने वाले व्यक्तियों पर विशेष निगरानी रखने का निदेश दिया, ताकि किसी भी तरह से असमाजिक, अराजक, अपराधियों एवं संदिग्धों का प्रवेश पलामू प्रमंडल सहित राज्य में नहीं हो।

उन्होंने कहा कि प्रमंडल क्षेत्र के पलामू, गढ़वा एवं लातेहार जिले में पंचायत चुनाव संपन्न कराने को लेकर तैयारी अंतिम चरण में है। प्रथम चरण के निर्वाचन हेतु मतदान की तारीख 14 मई निर्धारित है। वहीं द्वितीय चरण का मतदान 19 मई, तृतीय चरण में 24 मई एवं चतुर्थ चरण के लिए मतदान की तिथि 31 मई निर्धारित है। निर्वाचन तिथि से पूर्व से ही संबंधित जिला के अंतर्राज्यीय सीमा पर विशेष निगरानी एवं विशेष सर्तकता की आवश्यकता है। पलामू की सीमा अलग-अलग चरणों में बिहार के रोहतास एवं औरंगाबाद, गया, गढ़वा जिले के छत्तीसगढ़, उत्तर प्रदेश, बिहार के रोहतास तथा लातेहार जिले के बिहार राज्य एवं छत्तीसगढ़ राज्य के जिलों की सीमाएं मिलती है। चुनाव के दौरान विधि-व्यवस्थ एवं शांतिपूर्ण निर्वाचन संपन्न कराने के उद्देश्य से संबंधित जिलों के जिला दंडाधिकारी-सह-उपायुक्त एवं पुलिस अधीक्षक आवश्यक सहयोग एवं अग्रेतर कार्रवाई करना सुनिश्चित करें।

आयुक्त ने मतदान के दिन सीमा को सील कर अनावश्यक आवाजाही पर सख्ती बरतने का निदेश दिया। उन्होंने किसी भी जिला परिषद, मुखिया या अन्य उम्मीदवरों द्वारा आपराधिक तत्वों को बुलाने या उनके द्वारा डराने धमकाने की शिकायत मिलने पर संबंधितों के खिलाफ त्वरित कार्रवाई करने का निदेश पदाधिकारियों को दिया।

डीआईजी राजकुमार लकड़ा ने कहा कि चुनाव को लेकर किसी तरह की कोई असुविधा या समस्याएं नहीं होनी चाहिए। प्रमंडल क्षेत्र के सभी जिलों के प्रशासनिक एवं पुलिस पदाधिकारी के साथ-साथ अंतर्राज्यीय जिलों के पदाधिकारी समन्वय के साथ कार्य करें, तो शांतिपूर्ण चुनाव संपन्न कराने में सहुयित होगी। अंतर्राज्यीय सीमा पर सख्ती के साथ चेकिंग अभियान चलाएं, ताकि चुनाव में शांति व्यवस्था बनी रहे। उन्होंने कहा कि छोटे-छोटे गैंग या आपराधिक प्रवृति के लोगों पर नजर रखते हुए उनके खिलाफ कार्रवाई सुनिश्चित करें।

बैठक में इनकी रही उपस्थिति

बैठक में आयुक्त जटा शंकर चौधरी, डीआईजी राजकुमार लकड़ा के अलावा पलामू के जिला निर्वाचन पदाधिकारी-सह-उपायुक्त शशि रंजन, पुलिस अधीक्षक चंदन कुमार सिन्हा, एएसपी अभियान बृजेश कुमार मिश्रा, डीआईजी कार्यालय के डीएसपी एडमिन राहुल देव बड़ाईक, गढ़वा जिला निर्वाचन पदाधिकारी-सह-उपायुक्त रमेश घोलप, पुलिस अधीक्षक अंजनी झा, लातेहार के जिला निर्वाचन पदाधिकारी-सह-उपायुक्त अबु इमरान,

छत्तीगढ़ राज्य के बलराम उपायुक्त कुंदन कुमार, पुलिस अधीक्षक मोहित गर्ग, एएसपी ऑपरेशन प्रशांत कतलम, बिहार के औरंगाबाद की डीडीसी मंजू प्रसाद, डीएसपी हेडक्वाटर नभ वैभव, पलामू के उपनिदेशक कल्याण मतियस विजय टोप्पो, उप निर्वाचन पदाधिकारी-सह-जिला पंचायत राज पदाधिकारी शैलेश कुमार सिंह, जिला परिवहन पदाधिकारी अनवर हुसैन, एसडीपीओ सुरजित कुमार, रोहतास के डीएसपी हेडक्वाटर राजेश कुमार, लातेहार जिले के महुआडाड़ एसडीपीओ राजेश कुजूर, उत्तरप्रदेश के सोनभद्र के एएसपी विजय शंकर मिश्र, दुधी के अनुमंडल पदाधिकारी शैलेन्द्र कुमार मिश्रा, इमामगंज एसडीपीओ अजित कुमार सहित पलामू प्रमंडल के जिलों एवं झारखंड के सीमावर्ती अंतर्राज्यीय जिलों के पदाधिकारी उपस्थित थे।

- Advertisement -

READ THIS ALSO

Jharkhand Varta

Related Articles

खेलों इंडिया यूथ मलखंब प्रतियोगिता में भाग लेने के लिए झारखंड मलखंब खिलाड़ियों का प्रशिक्षण शिविर सम्पन्न।

रांची:-झारखंड राज्य खेल प्राधिकरण (पर्यटन, खेलकूद, एवं युवा कार्य विभाग, झारखंड सरकार के तत्वावधान में आयोजित आठ दिवसीय झारखंड टीम के प्रशिक्षण...

अवैध खनन को लेकर जिला स्तरीय टास्क फोर्स की वर्चुअल बैठक में डीसी शशि रंजन ने दिये कई निर्देश

जिले में 1 से 15 जून तक अवैध माइनिंग के खिलाफ चलेगा विशेष अभियान पलामू : डीसी शशि...

गढ़वा DC ने अवैध उत्खनन, उसके उठाव पर विशेष अभियान चलाते हुए दोषियों के विरुद्ध कार्रवाई हेतु निर्देश दिए।

अवैध उत्खनन, उसके उठाव तथा परिवहन पर सख्त हुए उपायुक्त विशेष अभियान चलाते हुए दोषियों के विरुद्ध कार्रवाई करने...
- Advertisement -

Latest Articles

खेलों इंडिया यूथ मलखंब प्रतियोगिता में भाग लेने के लिए झारखंड मलखंब खिलाड़ियों का प्रशिक्षण शिविर सम्पन्न।

रांची:-झारखंड राज्य खेल प्राधिकरण (पर्यटन, खेलकूद, एवं युवा कार्य विभाग, झारखंड सरकार के तत्वावधान में आयोजित आठ दिवसीय झारखंड टीम के प्रशिक्षण...

अवैध खनन को लेकर जिला स्तरीय टास्क फोर्स की वर्चुअल बैठक में डीसी शशि रंजन ने दिये कई निर्देश

जिले में 1 से 15 जून तक अवैध माइनिंग के खिलाफ चलेगा विशेष अभियान पलामू : डीसी शशि...

गढ़वा DC ने अवैध उत्खनन, उसके उठाव पर विशेष अभियान चलाते हुए दोषियों के विरुद्ध कार्रवाई हेतु निर्देश दिए।

अवैध उत्खनन, उसके उठाव तथा परिवहन पर सख्त हुए उपायुक्त विशेष अभियान चलाते हुए दोषियों के विरुद्ध कार्रवाई करने...

11000 बोल्ट तार गिरने से घर के बाहर बैठी तीन महिलाएं बुरी तरह झुलसी, स्थिति गंभीर

जमशेदपुर:परसुडीह थाना अंतर्गत झारखंडनगर से एक दर्दनाक खबर आ रही है जहां हाई वोल्टेज 11000 का तार गिरने से तीन महिलाओं के झुलस कर...

बिधवा महिला ने सरकार से मांगी मदद।

खबर:बीरेंद्र नाथ सोरेनचांडिल:चांडिल प्रखंड क्षेत्र के मनीकुई गाँव की आरसू मांझी के पति गुजरे हुए 11साल बीत जाने के बाद भी सरकार...