पापा की रिहाई के लिए लालू प्रसाद की बेटी रोहिणी ने राष्ट्रपति को लिखा ‘आजादी पत्र’कहा…

0

बिहार: चारा घोटाला मामले में सजायाफ्ता बिहार के पूर्व मुख्यमंत्री और राजद सुप्रीमो लालू प्रसाद यादव की तबीयत फिलहाल बिगड़ी हुई है। जिन्हें रिम्स के पेइंग वार्ड से बेहतर इलाज के लिए दिल्ली रेफर कर दिया गया है। वहीं पापा लालू प्रसाद यादव की बिगड़ते स्वास्थ्य की हालत को देखते हुए उनकी बेटी रोहिणी आचार्या ने देश के राष्ट्रपति रामनाथ कोविंद को एक आजादी पत्र लिखा है। साथ ही बिहार वासियों से ट्वीट कर अपील की है कि सोमवार 25 जनवरी को तीन बजे राजद प्रदेश कार्यालय पहुंचे और अपने नेता की रिहाई के लिए राष्ट्रपति को आजादी पत्र की मुहिम से जुड़ कर अपने नेता की आजादी के लिए अपील करें।

रोहिणी आचार्या ने ट्वीट में लिखा है कि ‘देश के महामहिम राष्ट्रपति को एक पत्र “आज़ादी पत्र” ग़रीबों के भगवान आदरणीय श्री लालू प्रसाद यादव जी के लिए…. इस मुहिम से जुड़े और अपने नेता के आज़ादी के लिए अपील करे….. जिसने हमें ताक़त दिया आज वक्त उनके ताक़त बनने का… हम और आप बड़े साहब की ताक़त है…..’.

गौरतलब हो कि रिम्स के पेइंग वार्ड में सजायाफ्ता लालू प्रसाद यादव की गुरुवार को अचानक तबीयत बिगड़ गई थी। उन्हें सांस लेने में तकलीफ हो रही थी और निमोनिया के लक्षण दिख रहे थे। इस बीच रिम्स में सेहत में सुधार नहीं होता देख डॉक्टरों की बोर्ड ने उन्हें नई दिल्ली एम्स भेजने का निर्णय लिया था। उसके बाद जेल प्रशासन से अनुमति मिलने के बाद एयर एंबुलेंस से उन्हें दिल्ली भेज दिया गया है। जहां उनका इलाज चल रहा है।

इधर दूसरी ओर खबरों के अनुसार लालू प्रसाद की रिहाई के लिए सोशल मीडिया पर लगातार आवाज उठ रही है शनिवार को लालू प्रसाद यादव के विधायक और बड़े बेटे तेज प्रताप के द्वारा ट्वीट कर लालू यादव की रिहाई के लिए हैशटैग चलाने की देर थी कि देखते ही देखते लालू प्रसाद यादव की रिहाई के लिए समर्थकों की कतार बढ़ने लगी।