पूर्व मंत्री एनोस एक्का फिर मुश्किल में,2 करोड़ जुर्माने के साथ 7 साल की सजा

0

रांची: झारखंड सरकार में पूर्व मंत्री रह चुके एनोस एक्का की मुश्किलें कम होने का नाम नहीं ले रही है।आय से अधिक संपत्ति मामले में पहले ही सात साल की सजा काट रहे हैं। इसी बीच गुरुवार को ईडी के विशेष जज ए के मिश्रा ने वीडियो कॉन्फ्रेंसिंग के जरिये पूर्व मंत्री एनोस एक्का को फिर से एक बार 7 साल सजा और 2 करोड़ रुपये का जुर्माना लगाया और सभी संपत्ति जब्त करने का भी आदेश दिया। विशेष जज के फैसले के मुताबिक एनोस एक्‍का ने जो भी संपत्ति अवैध तरीके से कमाई है या ब्लैक मनी को व्हाइट करने की नीयत से खरीदी है, उसे ईडी के द्वारा जप्त किया जाएगा।

बता दें कि पूर्व मंत्री एनोस एक्का को आय से अधिक संपत्ति मामले में सीबीआई की विशेष अदालत ने पहले ही सात साल की सजा सुनायी है।फरवरी महीने में सजा का एलान किया गया था जिसमें 50 लाख रुपए का जुर्माना भी लगाया गया था।

साथ ही पूर्व मंत्री के साथ उनकी पत्नी मेनन एक्का और परिवार के पांच अन्य सदस्यों को भी सीबीआई की विशेष अदालत ने 7-7 की सजा और 50-50 लाख रुपए का जुर्माना लगाया था। एक्का और उनके परिवार के लोगों पर 16.82 करोड़ रुपए की संपत्ति गलत तरीके से जुटाने का भी आरोप था। अगर इस सजा में जुर्माना नहीं देते हैं तो इन सबको एक साल की सजा और काटनी पड़ेगी।

एनोस एक्का पर अक्टूबर 2009 में मनी लॉन्ड्रिंग का मुकदमा दर्ज किया गया था. इस मामले की सुनवाई के समय ईडी ने अदालत में 56 गवाहों के बयान दर्ज करवाए. वहीं एक्का ने अपने बचाव में 71 गवाहों के बयान दर्ज कराये।