नाबालिग को प्रेम जाल में फंसा कर अपहरण,जंगल में हत्या,आरोपी धराया

0

जमशेदपुर: पोटका थानान्तर्गत कोवाली के मुकुंदसाई गांव की नाबालिग रेशमा गौड़ की उसके प्रेमी यह द्वारा हत्या का राज तब खुला जब 25 जनवरी की रात मामला का खुलास हुआ. कोवाली और किरीबुरू पुलिस 26 जनवरी की दोपहर घटनास्थल पर पहुंची और शव को बरामद किया.अपहरण कर बेरहमी से हत्या कर देने का सनसनीखेज मामला प्रकाश में आया है। पुलिस ने आरोपी मनोज गौड़ को धर दबोचा है।

बताया जाता है कि मनोज गौड़ के साथ नाबालिक का प्रेम प्रसंग था। से शादी करने का झांसा देकर शारीरिक संबंध भी बनाता था। इसी दौरान वह मनोज गौड़ उसे पश्चिमी सिंहभूम के किरीबुरू सारंडा में लेकर चला गया और जंगल में उसकी निर्ममता के हत्या कर दी और आराम से घर चला आया। अक्सर उसे वह घुमाने फिराने ले जाया करता था लेकिन 25 जनवरी को वह उसे घुमाने ले गया और वह रात में नहीं लौटी परिजनों ने मनोज गौड़ के खिलाफ अपहरण का मामला दर्ज कराया।

शिकायत के बाद पुलिस ने मनोज गौड़ को धर दबोचा। उसने अपना अपराध कबूल किया। पुलिस उससे पूछताछ के बाद रेशमा का शव किरीबुरू पुलिस ने 26 जनवरी को किरीबुरू जंगल से बरामद कर लिया।

मामले में खुलासा हुआ कि मनोज गौड़ मुकुंदसाई गांव के पड़ोसी गांव रोलाडीह निवासी से नाबालिक का प्रेम संबंध था। शादी का झांसा देकर वह उसका लगातार यौन शोषण करता रहा। इसी बीच रेशमा उस पर शादी का दबाव बनाने लगी। उसके बाद मनोज ने योजनाबद्ध तरीके से 25 जनवरी की रात उससे कहा था कि अब वह शादी कर लेगा और उसे घर के बाहर बुला लिया और अपने साथ लेकर चला गया। वह उसे अपने 407 ट्रक पर लेकर किरीबुरु गया था। उसके बाद बहाना बनाकर ट्रक से नीचे उतारा और जंगल की ओर ले गया। वहां लोहे के पाना से पीट-पीटकर उसकी हत्या कर दी।इसके बाद वह उसी रात अपने घर चला गया था। उसने पुलिस को बताया कि वह प्रेमिका से शादी नहीं करना चाहता था।शादी का दबाव बनाने के कारण ही उसने उसकी पहले से ही हत्या की योजना बनाई थी। पुलिस ने जांच रिपोर्ट तैयार करने के बाद शव को पोस्टमार्टम हेतु भेज दिया है।फिलहाल तक केवल अपहरण का मामला में उसे जेल भेजा गया है। हत्या का मामला बाद में जोड़ा जाएगा।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here