प्रदेश कांग्रेस में सब कुछ ठीक चलने का दावा तार तार,फुरकान ने कहा मंत्रियों से खुलेआम पैसे ले रहे हैं आरपीएन

0

रांची: झारखंड प्रदेश कांग्रेस में एक बार फिर सब कुछ ठीक चलने का दावा उस समय तार-तार हो गया जब कांग्रेस के बागी गुट का कथित रूप से नेतृत्व कर रहे पूर्व सांसद और वरिष्ठ कांग्रेसी नेता फुरकान अंसारी ने प्रदेश अध्यक्ष के खिलाफ खुलेआम हमला बोल दिया है। नई दिल्ली पहुंचकर फुरकान अंसारी कांग्रेस महासचिव के सी वेणु गोपाल से मुलाकात कर प्रदेश में चल रही राजनीतिक हालातों पर चर्चा के दौरान एक आदमी एक पद

सब ठीकठाक नहीं चल रहा है। लाख प्रयासों के बावजूद बागी गुट शांत नहीं हो रहा है। इसी क्रम में मंगलवार को पूर्व सांसद और कांग्रेस के सीनियर नेता फुरकान अंसारी ने एक बार फिर वरीय नेताओं के खिलाफ मोर्चा खोल दिया है। नई दिल्ली में कांग्रेस महासचिव केसी वेणुगोपाल से उन्होंने मुलाकात की और उनके साथ राज्य के हालात पर चर्चा के दौरान एक आदमी एक पद की नीति के तहत प्रदेश अध्यक्ष आरपीएन को हटाने की मांग कर दी।

फुरकान ने कहा प्रदेश अध्यक्ष आरपीएन पर आरोप लगाते हुए कहा कि उन्होंने झारखंड को ऐशगाह बना लिया है।प्रदेश कांग्रेस में चार साल से कोई कमेटी नहीं बनी है और इसकी पूरी जिम्मेदारी आरपीएन सिंह की है।झारखंड सरकार में शामिल कांग्रेस के मंत्रियों से हर महीने एक तय राशि वसूली जाती है और यही कारण है कि यहां ईमानदारी से काम नहीं हो रहा है।

उन्होंने कहा कि यह सब आश्चर्यजनक रूप से सब खुलेआम हो रहा है। उन्होंने शीघ्र ही प्रदेश कांग्रेस प्रभारी और प्रदेश अध्यक्ष को हटाने की मांग की है। कहा कि झारखंड में कांग्रेस पार्टी को और धारदार बनाने की आवश्यकता है।लोगों का विश्वास और रुझान कांग्रेस की तरफ काफी तेजी से बढ़ा है।

फुरकान ने कहा कि जिस प्रकार भाजपा ने पूरे देश के लोगों को त्रस्त कर दिया है इससे आम लोगों में भारी आक्रोश है। आज पूरे देश के किसान केंद्र सरकार की गलत नीतियों की मार झेल रहे हैं। परंतु आज सुप्रीम कोर्ट के फैसले ने यह साबित कर दिया कि देश की मोदी सरकार किसान विरोधी है और किसानों को मारने के लिए नया कानून बना रही है। किसान कि हक की लड़ाई के लिए कांग्रेस पार्टी 15 तारीख को एक बड़ा आंदोलन करेगी।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here