बिहार का छोटा भाई हैं झारखंड, मानसिक इलाज कराएं मंत्री रामेश्वर उरांव : विजय तिवारी

0

जमशेदपुर:बीजेपी झारखंड प्रदेश किसान मोर्चा के प्रदेश प्रवक्ता विजय तिवारी ने रामेश्वर उरांव के द्वारा बिहारी और मारवाड़ी पर की गई टिप्पणी की घोर निंदा की है।लगता हैं कि कांग्रेस और उसके नेताओं का एक ही काम रह गया हैं वो जात-पात, धर्म और प्रांत के नाम पर देश के नागरिकों में नफ़रत फैला कर अपनी राजनैतिक रोटी सेंकना l दिल्ली में इनके नेताओं द्वारा छद्म किसान आंदोलन को शह देकर राष्ट्र विरोधी गतिविधियों को प्रोत्साहित कर रहें हैं जिसका नज़ारा 26 जनवरी को पूरा देश देखा कि किस तरह देश को जलाने का कुत्सित प्रयास किया गया l अब उरांव जी द्वारा इस तरह बेतुका बयान दे कर झारखंड की शांति भंग करना चाह रहे हैं l उरांव जी भूल गए हैं कि किसी भी प्रांत में सभी देश वासियों को रहने का, नौकरी करने या व्यापार करने का संवैधानिक अधिकार है, फ़िर इस तरह का बयान देना उनकी नफ़रत भरी मानसिकता को दर्शाता है l

मारवाड़ी आज सबसे बड़ा आयकर दाता और रोजगार दाता हैं l तो बिहारी अपनी बुद्धिमत्ता और मेहनतकस होने के कारण जाने जाते हैं l देश के किसी भी राज्य की उन्नति में इन दोनों का अतुल्यनीय योगदान हैं l

झारखंड के निवासी चाहे आदिवासी, बंगाली, बिहारी, मारवाड़ी, गुजराती, उड़ीयावासी, मराठी, तेलंगी, मद्रासी हो या अन्य किसी प्रांत के हम सब भाई हैं और सबसे पहले भारतवासी हैं l

रामेश्वर उरांव जी को चेतावनी दी जा जाती हैं कि वो बिहारी भाइयों और मारवाड़ी भाइयों से लिखित माफी मांगे नहीं तो उनके खिलाफ जोरदार आंदोलन किया जाएगा।