बिहार प्रगतिशील मजदूर यूनियन ने सात सूत्री मांग को लेकर दिया एक दिवसीय धरना…

0

खबर:- सरिता देवी

गढ़वा:- मझीआंव प्रखंड कार्यालय के सामने मंगलवार को बिहार प्रगतिशील मजदूर यूनियन के बैनर तले प्रखंड के ज्वलंत सात सूत्री मांग को लेकर एक दिवसीय धरना दिया गया। धरने की अध्यक्षता यूनियन के संयोजक अवध बिहारी सिंह ने किया। इसके पश्चात मजदूरों ने यूनियन कार्यालय से लाल झंडे के साथ पूरे शहर पथ ब्लॉक रोड,लोहरपुरवा होते हुए धरना स्थल पर पहुंचकर धरने में तब्दील हो गया।

इस दौरान मजदूरों ने भ्रष्ट प्रशासन के विरुद्ध नारे लगा रहे थे। जबकि धरने को संबोधित करते हुए विरेंद्र कुमार सिंह ने कहा कि सभी सरकारी विभागों में भ्रष्टाचार का आलम है। बगैर रिश्वत के कोई काम नहीं होता है। इसके बावजूद भी प्रखंड के आला अधिकारी गाल पे हांथ धरे बैठे हैं। कहा की प्रखंड सह अंचल कार्यालय में बिचौलिया का बोलबाला है।

इन बिचौलियों के सहारे अंचल से संबंधित कोई भी कार्य करवाया जाता है। खेत का मोटेशन हो या दाखिल खारिज व भूमि स्वामित्व समेत अन्य कार्यों में खुलेआम पैसा उगाही किया जा रहा है। जिसका कमीशन संबंधित पदाधिकारी एवं कर्मचारी तक पहुंचाया जा रहा है। जबकि अवध बिहारी सिंह ने कहा कि कॉलेज के बगल में बहुत बड़ी पिक्चर प्लांट स्थापित किया गया है।

जो छात्र एवं जनमानस के सेहद पर प्रतिकूल असर पड़ सकता है। जनहित में इसे दूसरे जगह स्थानांतरण कराना अनिवार्य है। धरने का अंत में 7 सूत्री मांग वीडियो के माध्यम से झारखंड के मुख्यमंत्री के नाम से सौंपा गया।

जिस में उल्लेख किया गया है कि अभिलंब शहर से कुछ ही दूरी पर स्थापित पिक्चर प्लांट का स्थानांतरण कराने, डीलरों को 2G मशीन के जगह 4G मशीन उपलब्ध कराने, मजदूरों को रोजगार उपलब्ध कराने और साथ ही पलायन रोकने, फुटपाथ दुकानदारों को स्थाई सेड बनाकर दुकान आवंटित कराने, नगर पंचायत क्षेत्र के रेसुआ गांव में बिजली उपलब्ध कराने, जरूरतमंदों को पीएम आवास उपलब्ध कराने समेत सात सूत्री मांग पत्र शामिल हैं।

धरने में मुख्य रूप से धरने में मुख्य रूप से बैजनाथ सिंह, रामनाथ राम, रवि रंजन राम, शशिकांत किशोर, शांती देवी, कइली देवी, रामकली देवी, भोला पासवान, राजेश विश्वकर्मा, उपेंद्र ठाकुर समेत कई मजदूर शामिल थे।