बीएचयू अस्पताल में इलाजरत सी आई एस एफ के जवान की मौत

0

ख़बर- सरिता देवी

मंझिआव : नगर पंचायत क्षेत्र के मझीआंव खुर्द गांव के स्वर्गीय प्रभु सिंह के छोटे पुत्र धीरेंद्र सिंह (सी आई एस एफ के जवान) का गत बुधवार की देर शाम को देहांत हो गया। मृतक धीरेंद्र सिंह का इलाज पिछले 20 दिनों से वाराणसी शहर के बीएचयू अस्पताल में चल रहा था। वे 20 दिन पूर्व वाराणसी में ही ड्यूटी के दौरान अचानक बेहोश होकर गिर पड़े थे। इसके बाद विभागीय स्तर पर बेहतर इलाज हेतु बीएचयू में भर्ती कराया गया था जहां पर उनका इलाज चल रहा था। इसी दौरान गत बुधवार की देर शाम उनका निधन हो गया।

गुरुवार की अहले सुबह घर जवान धीरेंद्र का शव पहुंचते ही कोहराम मच गया। मृतक जवान की मां एवं पत्नी समेत उनके परिजन शव से लिपट कर रो-रो कर बेसुध होते जा रहे थे। वही मृतक की पत्नी पति के शव से लिपट कर रोते रोते गिर जा रही थी। जबकि एकलौता 12 वर्षीय पुत्र अपने पिता को देखकर बिलख बिलख कर रो रहा था।

उनका अंतिम दाह संस्कार स्थानीय कोयल नदी तट पर किया गया तथा मुखाग्नि बड़े भाई मनोज सिंह ने दी। जहां पर काफी संख्या में लोग शामिल हुए। घटना से आसपास समेत पूरे गांव में मातम छा गया है साथ ही जवान की निधन से लोग काफी दुखी हैं।

इस संबंध में प्राप्त जानकारी के अनुसार मृतक जवान धीरेंद्र सिंह वित्तीय वर्ष 2002 में सी आई एस एफ मे भर्ती हुए थे। वे वाराणसी के एयरपोर्ट पर पदस्थापित थे। खबर सुनते ही 35 वर्षीय मृतक जवान धीरेंद्र का शव को एक झलक देखने के लिए लोग बेहाल थे।

वही नगर पंचायत अध्यक्ष सुमित्रा देवी ने भी मृतक जवान के घर पहुंची। जहां पर परिजनो को ढांढस जताई और कहा कि इस दुख की घड़ी में हम सब उनके परिजन के साथ खड़े हैं। देश की रक्षा के लिए तत्पर रहने वाले जवानों के प्रति समाज में बेहद सम्मान है।

इस दौरान विभागीय एस आई पंकज कुमार, सीआईएसएफ के एक जवान के अलावे स्थानीय राधा कृष्ण मंदिर के पुजारी बाबा केशव नारायण दास, विजय सिंह, संजन सिंह, सत्येंद्र सिंह, प्रेमानंद त्रिपाठी, बबलू सिंह, उपेंद्र सिंह, कृष्णा सिंह, विष्णु देव तिवारी, समेत काफी संख्या में लोग उनके अंतिम संस्कार में शामिल हुए।