बीजेपी के लिए सिर्फ असम से खुशखबरी, रुझानों में पार्टी को बहुमत

0

पश्चिम बंगाल में निराशा के बीच बीजेपी के लिए असम से राहत की खबर मिलती दिख रही है। रुझानों में यहां बीजेपी की अगुवाई वाला गठबंधन एक बार फिर से वापसी करता नजर आ रहा है। बीजेपी नीत राष्ट्रीय जनतांत्रिक गठबंधन (NDA) को 77 सीटों पर बढ़त मिली है जबकि कांग्रेस के नेतृत्व में बने महागठबंधन को 40 सीटों पर बढ़त हासिल है। यहां बीजेपी को 31.6% जबकि कांग्रेस को 30% वोट मिलते दिख रहे हैं।

NDA प्रत्याशी 77 सीटों पर आगे
निर्वाचन आयोग की वेबसाइट पर उपलब्ध जानकारी के अनुसार, बीजेपी प्रत्याशी 58 सीटों पर आगे चल रहे हैं जबकि उसकी सहयोगी पार्टी असम गण परिषद (एजीपी) के प्रत्याशी 11 और यूनाइटेड पीपुल्स पार्टी लिबरल (यूपीपीएल) के प्रत्याशी 8 सीटों पर आगे चल रहे हैं। कांग्रेस के प्रत्याशियों ने 27 सीटों पर बढ़त हासिल की है जबकि उसकी अगुवाई वाले संयुक्त प्रगतिशील गठबंधन (UPA) के घटक दल एआईयूडीएफ 12 सीटों पर जबकि सीपीआई(एम) एक सीट पर आगे चल रही है।

मुख्यमंत्री सर्वानंद सोनोवाल, स्वास्थ्य मंत्री हिमंत बिस्व सरमा और एजीपी प्रमुख एवं मंत्री अतुल बोरा क्रमश: माजुली, जालुकबारी और बोकाखत से आगे चल रहे हैं। कांग्रेस के प्रदेश अध्यक्ष एवं सांसद रिपुन बोरा और विधानसभा में विपक्ष के नेता देबब्रत सैकिया गोहपुर और नजीरा में पीछे चल रहे हैं। जेल में बंद रायजोर दल के प्रमुख अखिल गोगोई सिबसागर सीट से आगे चल रहे हैं जबकि एएएसयू (आसू) के पूर्व नेता एवं सीएए विरोधी प्रदर्शनों के अगुआ असम जातीय परिषद के लुरिनज्योति गोगोई नहरकटिया में पीछे चल रहे हैं। असम में विधानसभा की 126 सीटें हैं और बहुमत के लिए 64 सीटों की जरूरत है।