बेरमो और दुमका जीता मधुपुर में लगाएंगे हैट्रिक: सीएम हेमंत

0

मुख्यमंत्री और झारखंड मुक्ति मोर्चा के केंद्रीय कार्यकारी अध्यक्ष हेमन्त सोरेन ने बाघमारा बलवा समेत कई क्षेत्रों में ताबड़तोड़ चुनावी रैलियां की

श्री सोरेन ने कहा- बेरमो और दुमका उपचुनाव जीत चुके हैं , अब मधुपुर में जीत की हैट्रिक लगाएंगे

2019 में हमारी सरकार बनने के बाद राज्य में दो उप चुनाव हुए । बेरमो में महागठबंधन के प्रत्याशी कुमार जयमंगल और दुमका से बसंत सोरेन ने शानदार जीत दर्ज की ।अब मधुपुर को जीतकर हम जीत की हैट्रिक लगाते हुए दिवंगत हाजी हुसैन अंसारी जी को सच्ची श्रद्धांजलि देंगे । मुख्यमंत्री और झारखंड मुक्ति मोर्चा के केंद्रीय कार्यकारी अध्यक्ष हेमन्त सोरेन ने आज मधुपुर उपचुनाव को लेकर बाघमारा बलवा समेत कई क्षेत्रों में ताबड़तोड़ चुनावी रैलियों को संबोधित किया । उन्होंने कहा कि मधुपुर सीट झारखंड मुक्ति मोर्चा का था और आगे भी रहेगा । यहां की जनता भाजपा को करारी शिकस्त देने को तैयार है । बस मतदान का अब इंतजार है ।

श्री सोरेन ने कहा कि हाजी हुसैन अंसारी जी अब इस दुनिया में नहीं है ,लेकिन उनके अधूरे कार्यों को हमने पूरा करने का ठाना है । इसलिए उनके ऊर्जावान पुत्र को यहां से प्रत्याशी बनाया है । मैं आपको यह बता देना चाहता हूं कि उन्हें प्रत्याशी बनाने के पहले मंत्री बनाया है , ताकि उनकी नजरों से हम इस क्षेत्र का सर्वांगीण विकास कर सके । अब आपको यह तय करना है कि आप मंत्री को जिताएंगे या किसी को सिर्फ विधायक बनाने के लिए मतदान करेंगे ।

भारतीय जनता पार्टी पर निशाना साधते हुए श्री सोरेन ने कहा कि यहां उसके प्रत्याशी से लेकर कार्यकर्ता तक दल बदलू हैं । चुनाव में अपने प्रत्याशी को जिताने के लिए इस पार्टी ने यूपी और बिहार से पैसे के बल पर लोगों को मधुपुर लेकर आई है । लेकिन, मैं आपको यह बताना चाहता हूं कि वे यहां सिर्फ पिकनिक मनाने आए हैं ।यहां की जनता तो हफीजुल हसन के पक्ष में मतदान करने का फैसला पहले ही कर चुकी है । इस उपचुनाव में भी भारतीय जनता पार्टी के दल बदलू उम्मीदवार को करारी हार झेलनी होगी ।

झारखंड मुक्ति मोर्चा के केंद्रीय कार्यकारी अध्यक्ष ने कहा कि इस समय सरहुल, रामनवमी और रमजान जैसे पर्व की खुशियों को लोग आपस में बांटने की तैयारी में पूरी तरह जुट चुके हैं । इसी तरह मधुपुर में भी हो रहे उपचुनाव को लेकर लोकतंत्र का महापर्व भी पूरे उल्लास के साथ हम मनाएं । उन्होंने कहा कि हमारे देश में पर्व त्योहारों को आपसी भाईचारे के साथ मनाने की परंपरा चली आ रही है । हमें इसे और मजबूत करना है , ताकि पूरी दुनिया इसका लोहा मान सके, लेकिन इसमें कुछ तत्व जहर घोलने की कोशिश कर रहे हैं। हम उनके नापाक इरादों को कभी पूरा नहीं होने देंगे ।