भट्ठा मालिक से लेवी वसूलने पहुंचे उग्रवादियों व पुलिस में मुठभेड़

0

झारखंड-झारखंड-बिहार के सीमावर्ती क्षेत्र व हुसैनाबाद थाना क्षेत्र के एकौनी गांव के समीप ईंट भट्ठा मालिक से लेवी वसूलने पहुंचे उग्रवादियों व पुलिस में मुठभेड़ हुई। पुलिस को भारी पड़ता देख झारखंड जनमुक्ति परिषद नामक संगठन के छह-सात उग्रवादी हथियार छोड़कर भाग गये। यह घटना शनिवार की रात करीब नौ बजे कहै है।

मुठभेड़ के बाद पुलिस को सर्च अभियान के दौरान दो राइफल, चार कारतूस, वर्दी और पर्चा मिला है। छह नामजद व दो अज्ञात नक्सलियों के खिलाफ प्राथमिकी दर्ज करायी गयी है। उग्रवादियों का एक दस्ता समाजसेवी रामप्रवेश मेहता के एकौनी गांव स्थित ईंट भट्टा लेवी वसूलने पहुंचा था। इसकी सूचना एसपी संजीव कुमार को मिली। इसके बाद उन्होंने एसडीपीओ पूज्य प्रकाश को उग्रवादियों के जुटने की जानकारी दी. सूचना मिलते ही एसडीपीओ पूज्य प्रकाश सदल-बल ईंट भट्ठा पहुंचे।

एसडीपीओ के अनुसार, जिस वक्त पुलिस वहां पहुंची, उग्रवादी लेवी नहीं मिलने के कारण ईंट भट्ठा के मजदूरों की पिटाई कर रहे थे। उग्रवादियों की नजर पुलिस पर पड़ी और वे गोली चलाने लगे। जवाब में पुलिस ने भी फायरिंग शुरू की। पुलिस को भारी पड़ता देख अंधेरे का फायदा उठा उग्रवादी भाग गये। उन्होंने कहा कि इस मामले में थाना प्रभारी ने छह नामजद व दो अज्ञात उग्रवादियों के खिलाफ प्राथमिकी दर्ज की है। इसमें बिहार के औरंगाबाद के कुटुंबा का अरविंद राम, नबीनगर थाना क्षेत्र के काशी तेंदुआ निवासी संजय राम, टंडवा थाना के बेनी निवासी नवीन राम, हुसैनाबाद के देवरी कला निवासी उमेश राम, सुकना डेरा निवासी इंदल पासवान, जयप्रकाश शर्मा समेत दो अज्ञात लोगों के नाम शामिल हैं।