भारतीय कंस्ट्रक्शन मजदूर संघ की बैठक में श्रमिकों पर अत्याचार के खिलाफ धरना का निर्णय

0

जमशेदपुर: कदमा शास्त्रीनगर सरस्वती शिशु विद्या मंदिर में अखिल भारतीय कंस्ट्रक्शन मजदूर संघ के पूर्वांचल की बैठक में निर्णय लिया गया कि निर्माण श्रमिकों के साथ हो रहे अत्याचार के विरोध में अत्याचार के विरोध में शीघ्र ही प्रदेशों में धरना प्रदर्शन क्या जाएगा। साथ ही यह भी निर्णय लिया गया कि जिला स्तर पर निर्माण मजदूरों के सहायतार्थ शीघ्र कमिटी ओं का निर्माण कर संगठन से मजदूरों को जोड़े जाएंगे एवं निर्माण मजदूरों के मिलने वाले लाभ के प्रति मजदूरों में जागरूकता लाने का काम किया जाएगा। आज निर्माण मजदूरों का शोषण प्रदेशों में बिचौलियों या भ्रष्ट लोगों द्वारा की जा रही है। मजदूर का मिलने वाला सामाजिक सुरक्षा के लाभ से व्यक्तिगत सुरक्षा की स्थिति बनी हुई है, जो बहुत ही दुर्भाग्यपूर्ण है। सरकार को राजनीति से ऊपर उठकर इस तरह के शोषित पीड़ित मजदूरों का उत्पीड़न करने से बचाव की प्रक्रिया अपनाने की आवश्यकता है।

बैठक की अध्यक्षता जय कृष्ण प्रसाद चंद्रवंशी ने की। जिसमें झारखंड उड़ीसा बंगाल एवं बिहार के पदाधिकारी उपस्थित थे।

बैठक में कहा गया कि भवन निर्माण के अखिल भारतीय कार्यसमिति 17 अट्ठारह फरवरी को कर्नाटका के मैसूर में होनी है। जिसमें इन मुद्दों पर चर्चा संभावित है। साथ ही इन मजदूरों के सुनहरे भविष्य के लिए संगठन कृत संकल्पित है। ऐसी धारणा के साथ सभा की कार्यवाही समाप्त की गई। इस पूर्वांचल बैठक में भारतीय मजदूर संघ के पूर्व श्रेत्रीय संगठन मंत्री श्री गणेश मिश्रा, भारतीय मजदूर संघ झारखंड प्रदेश के संगठन मंत्री श्री बृजेश कुमार, भवन निर्माण के संगठन मंत्री श्री बसंत साहू, झारखंड प्रदेश निर्माण के महामंत्री हरी लाल साहू, उड़ीसा के श्रीमती सुनंदा देवी, उपस्थित उपस्थिति थी । बिहार से श्री राकेश लाल श्री मुरारी प्रसाद ,कार्यसमिति सदस्य भा म संघ झारखंड प्रदेश श्री अमरेंद्र सिंह ,सहायक सचिव सिंहभूम ठेकादार मजदूर संघ अनिमेष अनिमेष कुमार दास एवं अन्य सदस्य उपस्थित हुए। उक्त जानकारी भारतीय मजदूर संघ जिला मंत्री अभिमन्यु सिंह ने दी।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here