भारत द्वारा किसी भी शांति पहल का स्वागत करेगा ईरान

0

नई दिल्ली : मेजर जनरल कासिम सुलेमानी की हत्या के बाद अमेरिका और ईरान में जंग शुरु हो गई है। इस बीच ईरान ने कहा कि अमेरिका के साथ तनाव खत्म करने के लिए भारत के द्वारा किसी भी पहल का स्वागत करेंगे। ईरान के दूत ने बुधवार को कहा कि भारत ईरान का अच्छा दोस्त है और हम युद्ध नहीं शांति चाहते हैं।

ईरान के सैन्य कमांडर कासिम सोलीमनी की हत्या के बाद अमेरिका के साथ अपने तनाव को कम करने के लिए ईरान भारत द्वारा किसी भी शांति पहल का स्वागत करेगा। बता दें अगर ईरान और अमेरिका के बीच युद्ध होता है तो भारत में भी इसका असर हो सकता है। तेल कीमतें बढ़ेंगी जिससे महंगाई बढ़ेगी।

लेकिन ईरानी दूत के इस टिप्पणी के कुछ ही घंटे बाद ईरान ने इराक में दो अमेरिकी सैन्य ठिकानों पर हमला कर दिया।

तजा जानकरी के अनुसार राष्ट्रपति डोनाल्ड ट्रम्प ने इस बात के कोई संकेत नहीं दिए हैं कि अमेरिका, ईरान की सेना की मेजबानी में इराकी ठिकानों पर ईरान के हमलों का जवाब देगा, जो एक शीर्ष ईरानी कमांडर की अमेरिकी हत्या से उत्पन्न एक बड़े संकट में युद्ध की तीव्रता में कमी का संकेत देगा।

ट्रंप ने कहा कि बुधवार को कोई अमेरिकी हताहत नहीं हुआ था और इराक के अंबर प्रांत में ऐन अल-असद एयरबेस पर ईरान द्वारा एक दर्जन से अधिक बैलिस्टिक मिसाइलों को चलाने और एरबिल में एक सुविधा के बाद नुकसान कम से कम था।

ईरान ने पिछले हफ्ते देश के सबसे शक्तिशाली और श्रद्धेय सैन्य नेता क़ासम सोलेमानी की हत्या के लिए अमेरिका के खिलाफ जवाबी हमला किया था, जिस पर वाशिंगटन ने क्षेत्र में अमेरिकी सेना के खिलाफ आसन्न हमलों की साजिश रचने का आरोप लगाया था।