मकर संक्रांति में जाने किस राशि के लोग करें क्या दान…

0

एस्ट्रो राजेश पाठक

✍🏻सूर्य के राशि परिवर्तन को संक्रांति कहा जाता है, जब सूर्य का गोचर वर्ष भ्रमण करते हुए मकर राशि मे प्रवेश करते है तो इसे मकर संक्रांति कहा जाता है एस्ट्रो राजेश पाठक ने बताया कि वर्ष 2021 में मकर संक्रांति 14 जनवरी में रहेगी व पर्व काल सुबह 8 बजकर 30 मिनिट से शाम 5 बजकर 46 मिनिट तक रहेगा इस मकर संक्रांति का वाहन सिंह व उप वाहन हाथी रहेगा। एस्ट्रो राजेश पाठक ने बताया कि प्राचीन परंपराओं के अनुसार इस दिन दान और नदी स्नान का विशेष महत्व है। ऐसी मान्यता है कि जो लोग संक्रांति पर दान करते हैं, उन्हें अक्षय पुण्य की प्राप्ति होती है और दुख-दर्द से छुटकारा मिलता है।

*मकर संक्रांति पर राशि अनुसार मंत्र जाप व इन वस्तुओं का दान करे*

*१:-मेष राशि:-* जल में पीले पुष्प, हल्दी, तिल मिलाकर अर्घ्य दें। तिल-गुड़ का दान दें। उच्च पद की प्राप्ति होगी। *ॐ घृणि सूर्याय नमः* यह मंत्र का जाप करे।

*२:-वृषभ राशि:-* जल में सफेद चंदन, दुग्ध, श्वेत पुष्प, तिल डालकर सूर्य देव को अर्घ्य दें। बड़ी जवाबदारी मिलने तथा महत्वपूर्ण योजनाएं प्रारंभ होने के योग बनेगें। *ॐ भास्कराय नमः* यह मंत्र का जाप करे।

*३:-मिथुन राशि:-* जल में तिल, दूर्वा तथा पुष्प मिलाकर सूर्य को अर्घ्य दें। गाय को हरा चारा दें। मूंग की दाल की खिचड़ी दान दें। ऐश्वर्य की प्राप्ति होगी। *ॐ मित्राय नमः* यह मंत्र का जाप करे।

*४:-कर्क राशि:-* जल में दुग्ध, चावल, तिल मिलाकर सूर्य को अर्घ्य दें। चावल-मिश्री-तिल का दान दें। कलह-संघर्ष, व्यवधानों पर विराम लगेगा। *ॐ दिवाकराय नमः* यह मंत्र का जाप करे।

*५:-सिंह राशि:-* जल में कुमकुम तथा रक्त पुष्प, तिल डालकर सूर्य को अर्घ्य दें। तिल, गुड़, गेहूं, सोना दान दें। किसी बड़ी उपलब्धि की प्राप्ति होगी। *ॐ अकृष्णाय नमः* यह मंत्र का जाप करें।

*६:-कन्या राशि:-* जल में तिल, दूर्वा, पुष्प डालकर सूर्य को अर्घ्य दें। मूंग की दाल की खिचड़ी दान दें। गाय को चारा दें। शुभ समाचार मिलेगा। *ॐ घृणि सूर्याय नमः* यह मंत्र का जाप करे।

*७:-तुला राशि:-* सफेद चंदन, दुग्ध, चावल, तिल मिलाकर सूर्य को अर्घ्य दें। चावल का दान दें। व्यवसाय में बाहरी संबंधों से लाभ तथा शत्रु अनुकूल होंगे। *ॐ दिनकराय नमः* यह मंत्र का जाप करे।

*८:-वृश्चिक राशि:-* जल में कुमकुम, रक्तपुष्प तथा तिल मिलाकर सूर्य को अर्घ्य दें। गुड़ का दान दें। विदेशी कार्यों से लाभ तथा विदेश यात्रा होगी। *ॐ मित्राय नमः* यह मंत्र का जाप करे।

*९:-धनु राशि:-* जल में हल्दी, केसर, पीले पुष्प तथा मिल मिलाकर सूर्य को अर्घ्य दें। चहुंओर विजय होगी। *ॐ आदित्याय नमः* यह मंत्र का जाप करे।

*१०: मकर राशि:-* जल में काले-नीले पुष्प, तिल मिलाकर सूर्य देव को अर्घ्य दें। गरीब-अपंगों को भोजन दान दें। अधिकार प्राप्ति होगी *ॐ घृणि सूर्याय नमः* यह मंत्र का जाप करे।

*११:-कुंभ राशि:-* जल में नीले-काले पुष्प, काले उड़द, सरसों का तेल-तिल मिलाकर सूर्य देव को अर्घ्य दें। तेल-तिल का दान दें। विरोधी परास्त होंगे। भेंट मिलेगी। *ॐ भास्कराय नमः* यह मंत्र का जाप करें।

*१२:-मीन राशि:-* हल्दी, केसर, पीत पुष्प, तिल मिलाकर सूर्य को अर्घ्य दें। सरसों, केसर का दान दें। सम्मान, यश बढ़ेगा। *ॐ घृणि सूर्याय नमः* यह मंत्र जाप करे।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here