मधुपुर की जीत झमुमो की नहीं बल्कि सत्ता की है जीत: दीपक प्रकाश

0

असम, पुडुचेरी,बंगाल की जनता के प्रति जताया आभार

मधुपुर उपचुनाव को लेकर भारतीय जनता पार्टी के प्रदेश अध्यक्ष सह सांसद दीपक प्रकाश ने यूपीए गठबंधन के प्रत्यासी हफीजुल हसन को जीत की बधाई देते हुए कहा कि यह झामुमो की नहीं बल्कि सत्ता की जीत है। उन्होंने कहा कि यूपीए गठबंधन की सीट व सत्ता में रहते हुए भी बमुश्किल जीत प्राप्त करना सरकार के प्रति जनता में विश्वास की कमी दर्शाता है। उन्होंने मधुपुर की जनता को धन्यवाद व आभार प्रकट करते हुए कहा कि 2019 के तुलना में 2021 के चुनाव में भारतीय जनता पार्टी को काफी कम वोटों से शिकस्त मिली है।

इसे हम लोग और सुधार करेंगे। उन्होंने कहा कि इस उपचुनाव में एक विपक्ष के नाते कड़ी शिकस्त दी है। महागठबंधन हारते हारते जीत दर्ज की है। आगे भी प्रदेश में जनता के सवालों को भारतीय जनता पार्टी प्रमुखता से उठाते रहेगी। एक मजबूत विपक्ष की भूमिका निभाएंगे। सरकार की विफलताओं और नाकामियों के खिलाफ सदन से लेकर सड़क तक लड़ते रहेंगे। महाठगबंधन के नाकामियों को उजागर करते रहेंगे। सरकार ने युवाओं किसानों को महिलाओं को ठगने का कार्य किया है। वहीं श्री प्रकाश ने असम, पुडुचेरी, बंगाल, तमिलनाडु और केरल की जनता को बधाई व शुभकामना देते हुए कहा कि सभी राज्यों के चुनाव व उपचुनाव में पार्टी का बेहतरीन प्रदर्शन रहा। असम में जनता ने दोबारा भारतीय जनता पार्टी के विकास कार्यों पर मुहर लगाया है।

पार्टी के नीतियों व विकास कार्यों के प्रति पुर्वांचल के लोगों ने पार्टी के प्रति विश्वास जताया है। पुर्वांचल में पार्टी लगातार जनता के सवालों का निष्पादन और संघर्ष करते आई है। पार्टी कार्यकर्ता लोगों के विश्वास पर खरा उतरने का कार्य किया है।

उन्होंने पश्चिम बंगाल चुनाव को लेकर कहा कि पार्टी ने बंगाल में कड़ी संघर्ष देते हुए सदन में मजबूत उपस्थिति दर्ज कराई है। नंदीग्राम सीट पर ममता दीदी की हार बताता है कि जनता ने उन्हें अस्वीकार कर दिया है। दीदी को राजनीति से इस्तीफा देना चाहिए। उन्होंने कहा कि भारतीय जनता पार्टी बंगाल में प्रमुख विपक्षी दल के नाते सरकार की नाकामियों को सदन से लेकर सड़क तक उठाते रहेंगे। उन्होंने कहा कि बंगाल से कांग्रेस और वामपंथ का सफाया दर्शाता है कि जनता भाजपा की ओर विश्वास व्यक्त की है।