महाराष्ट्र हाई वोल्टेज सियासत के बीच बागी नेता एकनाथ शिंदे ने राज्यपाल को लिखा पत्र, मची खलबली

- Advertisement -

एजेंसी: महाराष्ट्र हाई वोल्टेज सियासत के बीच शिवसेना असली कौन है इसकी लड़ाई शुरू है। इसका वजह बताया जा रहा है कि शिवसेना से अलग हुए तकरीबन 37 विधायकों का अपने साथ होने का दावा करने वाले बागियों के विधायक दल के नेता एकनाथ शिंदे ने राज्यपाल को एक पत्र लिखते हुए महाराष्ट्र की सियासत में खलबली मचा दी है। जिसमें उन्होंने शिवसेना के 37 विधायकों के हस्ताक्षर युक्त पत्र राज्यपाल भगत सिंह कोश्यारी को भेजा है। जिसमें उन्होंने तकरीबन 46 विधायकों का समर्थन प्राप्त होने का दावा किया है। इस पत्र की प्रतिलिपि उन्होंने डिप्टी स्पीकर को भी सौंपी है। जिससे कयास लगाया जा रहा है कि अब असली शिवसेना कौन है के मुद्दे पर महाराष्ट्र सीएम उधव ठाकरे वर्सेस एकनाथ शिंदे के बीच लड़ाई छिड़ गई है। नियमों के मुताबिक दो तिहाई विधायक यदि एकनाथ शिंदे के साथ है तो कानूनन असली शिवसेना उन्हीं को मान्यता मिलने की संभावना है। वहीं सीएम उधव ठाकरे वाली शिवसेना के द्वारा 15 बागी विधायकों के निलंबन की मांग की जाने की खबर है। जिससे चर्चा है कि अब यह लड़ाई लंबी खिंच सकती है और कानूनन लड़ाई भी तय है।

इधर मीडिया रिपोर्ट्स के मुताबिक जैसे-जैसे समय बीते जा रहा है एकनाथ शिंदे गुट में विधायकों की संख्या बढ़ती जा रही है। शिवसेना और निर्दलीय विधायक एकनाथ शिंदे को समर्थन देने के लिए पहुंच रहे हैं।

वहीं दूसरी ओर जानकार सूत्रों का यह भी कहना है कि शिवसेना के कई मंत्री और सांसद भी एकनाथ शिंदे के समर्थन में खड़े हैं। जिससे सीएम उधव ठाकरे को दोहरी चुनौती का सामना करना पड़ रहा है जिसमें पार्टी भी बचानी है और सरकार भी बचानी है।

हालांकि सीएम उद्धव ठाकरे साइलेंट मोड में आ गए हैं उन्होंने अपने सरकारी आवास अपने परिवार के साथ छोड़कर मातोश्री में शिफ्ट हो गए हैं। फेसबुक पर लाइव आने के बाद वे मीडिया में कम ही दिखाई दे रहे हैं। मोर्चा शिवसेना प्रवक्ता संजय रावत ने संभाला हुआ है।

वहीं हाई वोल्टेज सियासत के बीच महाराष्ट्र में महा विकास आघाडी में भी टूट की संभावना तेजी से चर्चा में है। इसका वजह बताया जाता है कि शिवसेना के केंद्रीय प्रवक्ता संजय रावत ने मीडिया के समक्ष कल यह भी बयान दे दिया है कि यदि बागी शिवसैनिक 24 घंटे के अंदर आकर सामने मुंबई में कह दे कि महा विकास आघाडी से समर्थन वापस ले लेना है तो वे तैयार हैं।

वहीं दूसरी ओर सूत्रों का कहना है कि एकनाथ शिंदे ने यहां तक कह दिया है कि अब काफी समय आगे निकल चुका है वापस लौटना मुश्किल है। इधर मुंबई वापस लौटने के सवाल पर एकनाथ शिंदे गुट के विधायकों का कहना है कि मुंबई लौटने का फैसला उनका गुप्त रहेगा।

बहरहाल महाराष्ट्र के राज्यपाल भगत सिंह कोश्यारी कोरोना संक्रमित हो गए हैं और साथ ही महाराष्ट्र के मुख्यमंत्री उधव ठाकरे के भी कोरोना वायरस से संक्रमित होने की खबर है जिसके कारण महाराष्ट्र की सियासत में अभी और ट्विस्ट आने की पुरजोर संभावना भी जताई जा रही है और यह लड़ाई अब सदन के फर्श से लेकर कोर्ट कचहरी तक भी जाने की पुरजोर संभावना है।

- Advertisement -

READ THIS ALSO

Jharkhand Varta

Related Articles

इक्फ़ाई विश्वविद्यालय रांची में एलुमनी मीट – “अनुस्मरण 2022” आयोजित

रांची : इक्फ़ाई विश्वविद्यालय, झारखंड में वीडियो कॉन्फ्रेंसिंग के माध्यम से "अनुस्मरण", एलुमनी मीट -2022 आयोजित की गई, जिसमें भारत और विदेशों के विभिन्न...

माननीय राज्यपाल श्री रमेश बैस एवं माननीय मुख्यमंत्री श्री हेमन्त सोरेन ने प्रभु जगन्नाथ से राज्य की सुख-समृद्धि की कामना की।

रथ यात्रा के पावन अवसर पर माननीय राज्यपाल श्री रमेश बैस एवं माननीय मुख्यमंत्री श्री हेमन्त सोरेन आज रांची धुर्वा स्थित जगन्नाथ मंदिर पहुंचकर...

अमरनाथ यात्रा के लिए जदयू प्रदेश सचिव राकेश गुप्ता हुए रवाना , लोगो ने यात्रा मंगलमय होने की दी शुभकामनाएं

कोरोना महामारी के कारण दो साल बाद अमरनाथ यात्रा फिर से शुरू कर दिया गया है। तीर्थ यात्री का जत्था अमरनाथ यात्रा के लिए...
- Advertisement -

Latest Articles

इक्फ़ाई विश्वविद्यालय रांची में एलुमनी मीट – “अनुस्मरण 2022” आयोजित

रांची : इक्फ़ाई विश्वविद्यालय, झारखंड में वीडियो कॉन्फ्रेंसिंग के माध्यम से "अनुस्मरण", एलुमनी मीट -2022 आयोजित की गई, जिसमें भारत और विदेशों के विभिन्न...

माननीय राज्यपाल श्री रमेश बैस एवं माननीय मुख्यमंत्री श्री हेमन्त सोरेन ने प्रभु जगन्नाथ से राज्य की सुख-समृद्धि की कामना की।

रथ यात्रा के पावन अवसर पर माननीय राज्यपाल श्री रमेश बैस एवं माननीय मुख्यमंत्री श्री हेमन्त सोरेन आज रांची धुर्वा स्थित जगन्नाथ मंदिर पहुंचकर...

अमरनाथ यात्रा के लिए जदयू प्रदेश सचिव राकेश गुप्ता हुए रवाना , लोगो ने यात्रा मंगलमय होने की दी शुभकामनाएं

कोरोना महामारी के कारण दो साल बाद अमरनाथ यात्रा फिर से शुरू कर दिया गया है। तीर्थ यात्री का जत्था अमरनाथ यात्रा के लिए...

सड़क बनी तालाब , कई घरों में पानी घुसा

रांची वार्ड 15 बलदेव सहाय लेन मै बारिश होने से नारकीय स्थिति बन गई है । सड़क में पूरा पानी भर गया है कई...