माता बनी कुमाता : नवजात बच्ची को मरने के लिए फेंक दिया

0

रामगढ़ : माता बनी कुमाता, रामगढ़ जिले में मां की ममता एक बार फिर शर्मसार हुई। यहां नवजात बच्ची को उसकी मां ने ही मरने के लिए फेंक दिया। कड़ाके की ठंड में उस बच्ची ने खुले आसमां के नीचे रात गुजारी। इससे उसकी हालत काफी खराब हो गई है। रविवार सुबह पुलिस और बाल कल्याण समिति ने उस बच्चे की जान बचाई। फिलहाल उस नवजात बच्ची का इलाज सदर अस्पताल में चल रहा है।

बच्ची को बेहोशी की हालत में देखा गया

रामगढ़ सदर अस्पताल के चिकित्सक उसकी हालात को सुधारने में जुटे हुए हैं। बाल कल्याण समिति के सदस्य आकाश शर्मा ने बताया कि बरलंगा गांव में नवजात बच्ची को बेहोशी की हालत में देखा गया। ग्रामीणों ने शोर मचाया और तत्काल इसकी सूचना पुलिस को दी। उस लावारिस बच्ची को शायद मरने के लिए उसकी मां ने ठंड की रात में फेंक दिया था।

बच्ची को आया होश, इलाज सुरु

उस बच्ची की जान बचाने के लिए पुलिस ने तत्काल स्थानीय स्तर पर चिकित्सकों को बुलाया। लेकिन उसकी हालत में कोई सुधार नहीं हो पाया था। बाद में बाल कल्याण समिति के सदस्यों ने चिकित्सकों की टीम के साथ बरलंगा थाना पहुंचे और वहां से बच्ची को लेकर सदर अस्पताल लाए। सदर अस्पताल में उस बच्ची को होश आया और फिर उसका इलाज भी चिकित्सकों ने शुरू किया।