मानभूम जंगलमहल क्षेत्रीय प्रशासन का गठन हो-सुदेश महतो

0

सिल्ली:- 24 जनवरी पश्चिम बंगाल के पुरुलिया जिला अंतर्गत बागमुंडी विधानसभा के लहरिया में आजसू पार्टी का विधानसभा स्तरीय कार्यकर्ता सम्मेलन आयोजित किया गया। सम्मेलन के मुख्य अतिथि झारखंड के पूर्व उपमुख्यमंत्री एवं आजसू पार्टी के केंद्रीय अध्यक्ष श्री सुदेश कुमार महतो थे।सम्मेलन में वृहत झारखंड क्षेत्र के लोगों की सामाजिक एवं आर्थिक समस्याओं पर गहन चिंतन किया गया एवं इसके निदान के लिए आगे की रणनीति तैयार की गयी।

आजसू पार्टी मांग करती है कि जंगल महल के इस इलाके (बांकुड़ा, झाड़ग्राम, मिदनापुर, पुरुलिया) को मानभूम -जिससे इस इलाके के राजनीतिक, सामाजिक, और आर्थिक पहचान तथा तरक्की के मार्ग प्रशस्त हो सके। आजसू पार्टी इसके गठन के लिए उस इलाके में जनमत संग्रह एवं संघर्ष को मुकाम तक पहुंचाएगी।सभा को संबोधित करते हुए सुदेश कुमार महतो ने

कहा कि आजसू ने अलग राज्य की लड़ाई लड़ी हैं।झारखंड के दिल से जुड़े हुए है।जंगलमहल के लोग आज सीमाओं के जरिए लोगों को दो राज्यों के बीच में बांट दिया गया है लेकिन दिल से हम सभी एक है। हमारी संस्कृति, हमारी वेश-भूषा, हमारी भाषा एक है। बांग्लादेशियों को कोलकाता में नेतृत्व मिल सकता है, पर जंगलमहल के लोगों को नहीं जंगलमहल क्षेत्र की सभ्यता और संस्कृति को पश्चिम बंगाल में उचित स्थान नहीं दिया गया। उनकी अस्मिता एवं पहचान के साथ खिलवाड़ हुआ।वहीं

पूर्व मंत्री रामचंद्र सहिस ने कहा कि इस क्षेत्र को न्याय दिलाना हमारी प्राथमिकता है। इस क्षेत्र में विकास का नया अध्याय लिखना हमारी प्राथमिकता। इस क्षेत्र की अस्मिता एवं आस्तित्व को मिटाने का जो प्रयास हो रहा है, उसे रोकना ही हमारा लक्ष्य है। हमारा मकसद चुनाव लड़ना नहीं बल्कि इस क्षेत्र की जनता को उनका हक एवं अधिकार दिलाना है।

वृहद झारखंड का हिस्सा हर हाल में हासिल करेंगे।पूर्व मंत्री उमाकांत रजक कहा कि आज़ादी के बाद से जंगल महल क्षेत्र पश्चिम बंगाल राज्य का सबसे उपेक्षित क्षेत्र रहा है। लोगों को कुछ नहीं मिला, बल्कि उन्हें अपने जंगलों को भी खोना पड़ा। राज्य द्वारा किए गए बड़े पैमाने पर वनों की कटाई से उनका वन-आधारित आजीविका को बहुत नुकसान हुआ। सिंचाई में सुधार और कृषि के विकास पर कोई ध्यान नहीं दिया गया। कोई उद्योग भी वहां स्थापित नहीं किया गया।

सम्मेलन में आजसू पार्टी के पश्चिम बंगाल प्रभारी सुनील कुमार सिंह, जयंत घोष, मुकुंद मेहता, जिला अध्यक्ष धीरेन रजक, चितरंजन महतो,झालदा प्रखण्ड अध्यक्ष राजेश महतो, अजय कुमार महतो, तरुण पांडेय, सुशील महतो आदि उपस्थित थे।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here