मृत मरीज की उंगलियों से अस्पताल से हीरे और सोने की ढाई लाख की अंगूठियां गायब,मचा हड़कंप

0

रांची : कोडरमा जिले के झुमरीतिलैया के रहने वाले रिटायर्ड इंजीनियर वीरेंद्र प्रसाद वर्णवाल कार्डियक अरेस्ट के कारण तबीयत बिगड़ने पर बरियातू रोड स्थित साई हॉस्पिटल में भर्ती हुए थे। भर्ती के समय उनके उंगलियों में एक हीरे समेत सोने की पांच अंगुठियां थीं। जहां इलाज के दौरान शुक्रवार को उनकी मौत हुई और उनके हाथों की अंगुठियां गायब पाई गई। बस उंगलियों पर अंगुठियों के निशान थे। यह देख उनके बेटे पीयूष कुमार ने इस बात की जानकारी अस्पताल के कर्मियों और प्रबंधन से ली पर सभी ने अंगूठी के संबंध में अनभिज्ञता जाहिर की। इस पर इंजीनियर के बेटे सहित अन्य परिजनों ने हंगामा किया और डायल 100 पर सूचित किया तो बरियातू थाने की पुलिस ने रिटायर्ड इंजीनियर के बेटे से संपर्क किया और थाने में एफआइआर दर्ज कराने की बात कही। हालांकि बरियातू थाना प्रभारी सपन कुमार महथा के मुताबिक इस मामले की अब तक लिखित शिकायत नहीं दर्ज कराई गई है। शिकायत दर्ज होने पर कार्रवाई होगी।

प्राप्त जानकारी के अनुसार मृतक वीरेंद्र प्रसाद वर्णवाल चतरा जिले में लघु सिंचाई विभाग से सेवानिवृत्त हो चुके थे।

इंजीनियर के बेटे पीयूष कुमार ने आरोप लगाया है कि उसके पिता को गंभीर हालत में अस्पताल में भर्ती कराया गया था। उन्हें देखने केवल मिलने के निर्धारित समय पर ही जाना संभव हो पाता था। आखिरी बार जब मिला था तो उनकी हाथ में अंगूठी देखी थी। लेकिन जब मौत की सूचना दी गई तब जाकर सब देखा तो उनके हाथ से अंगूठी गायब थी। बेटे का आरोप है कि अस्पताल कर्मियों की सांठगांठ से अंगूठी गायब हुई है।

खास बात यह है कि उनके उंगलियों में चांदी की अंगूठी और घोड़े का नाल सुरक्षित था। जबकि हीरे और सोने की अंगूठियां गायब थीं।