मेला देखकर लौट रही बच्चियों के अगवा और छेड़खानी मामले की मेडिकल रिपोर्ट आई.. राजनीति शुरू

0

रांची: टूसू मेला देखकर वापस अपने घर लौट रही छह किशोरियों को अगवा कर दो से दुष्कर्म की कोशिश व छेड़छाड़ मामले में गुरुवार की रात सदर अस्पताल में सभी पीडि़त किशोरियों की मेडिकल जांच की गई। मेडिकल जांच में किसी भी किशोरी के साथ दुष्कर्म की पुष्टि नहीं होने की खबर है।

वहीं दूसरी ओर मामले में शुक्रवार को कोर्ट में सभी बच्चियों ने धारा 164 के तहत बयान दर्ज कराया गया। न्यायिक दंडाधिकारी प्रथम श्रेणी तुषार आनंद के समक्ष अपना बयान दर्ज कराया।मामले में चार आरोपियों को पुलिस ने जेल भेज दिया है, जबकि एक नाबालिग को बाल सुधार गृह भेजा गया।

बता दें रंगरोड़ी गांव में लगे टुसू मेले से लौटते समय छह नाबालिग लड़कियों को अगवा कर हातूदामी गांव के पांच युवकों ने अगवा कर छेड़छाड़ की थी और दुष्कर्म की कोशिश की थी।

वहीं दूसरी ओर भाजपा की एक टीम ने शुक्रवार को महामंत्री दीपक प्रकाश के नेतृत्व में घटनास्थल का दौरा किया और पीडि़त परिवार के लोगों से भी मुलाकात की। भाजपा के प्रदेश अध्यक्ष लक्ष्मण गिलुवा के निर्देश पर खूंटी गया जांच दल अपनी रिपोर्ट प्रदेश नेतृत्व को सौंपेगा। प्रतिनिधिमंडल में महामंत्री दीपक प्रकाश के अलावा सुबोध सिंह गुड्डू व महिला मोर्चा की प्रदेश अध्यक्ष आरती सिंह शामिल थीं। आरती सिंह ने कहा कि बातचीत के क्रम में ऐसा लगा लगा कि परिजन डरे हुए हैं या उन्हें डराया गया है। उन्होंने दोषियों को कठोर सजा दिलाने की मांग की। उनके साथ भाजपा के खूंटी जिलाध्यक्ष काशीनाथ महतो तथा अनुसूचित जनजाति मोर्चा के जिलाध्यक्ष लीलू पाहन भी परिजनों से मिलने गए थे।