रांची जिले के कई क्षेत्र कंटेनमेंट जोन से बाहर, हिंदी पीढ़ी पर….

0

रांची: रांची जिला प्रशासन के द्वारा 16 क्षेत्रों में पिछले कुछ दिनों से कोरोना वायरस संक्रमण का मामला नहीं आने के कारण इन्हें माइक्रो कंटेनमेंट जोन की श्रेणी से हटा दिया गया।

बता दे कि पिछले दिनों कोरोना वायरस के बढ़ते संक्रमण के मामले को देखते हुए जिले के 25 क्षेत्रों को कंटेनमेंट जोन और माइक्रो कंटेनमेंट जोन की श्रेणी में रख दिया गया था।

खबरों के मुताबिक कुछ दिनों से इन क्षेत्रों में कोरोना वायरस के एक भी मामला सामने नहीं आने के बाद जिला प्रशासन के वरीय पदाधिकारियों ने पूरे मामले पर यह चर्चा करते हुए इस पर फैसला लेते हुए कंटेनमेंट जोन के तहत अब तक जो भी पाबंदियां लगाई गई थी, उन्हें भी इन क्षेत्रों से हटा दिया गया है।

ऐसा 25 में से 16 क्षेत्रों को माइक्रो कंटेनमेंट जोन की श्रेणी से मुक्त कर दिया गया है। इसके अलावे प्रशासन द्वारा की गई बैरिकेडिंग को भी हटा लिया जाएगा।इन क्षेत्रों के कई मरीजों में कोरोनावायरस हुआ था। अब वह भी ठीक होकर अपने घर को जा चुके हैं।

कंटेनमेंट जोन से मुक्त होने वालों क्षेत्रों में करंजी, बेड़ो, मोरो इटकी, बांस टोली गली पिस्का मोड़, पीपी कॉलोनी लावाडीह, ताऊ बुंडू, खक्सी टोला, बजरा, अरसंडे कांके, बड़ा तालाब के पास गाड़ी खाना सेवासदन, उपकार नगर कडरू, रामनगर के पावर हाउस के पास, चुटिया, इमली चौक स्थित हॉस्टल चौक हरमू, नेताजी नगर कांटाटोली, आनंदपुरी रांची, डॉक्टर्स कॉलोनी बरियातू, जाकिर कॉलोनी इलाही नगर शामिल है।

वहीं नाला रोड, कुरबान चौक, मोती मस्जिद, बड़ी मस्जिद, निजामनगर और राईन मस्जिद को माइक्रो कंटेनमेंट जोन बनाने की योजना है।

वहीं दूसरी ओर हिंदपीढ़ी क्षेत्र के कुछ इलाकों को मुक्त करने की बात चल रही है लेकिन फिलहाल व्यवस्था में परिवर्तन को लेकर कोई अंतिम निर्णय अभी तक नहीं लिए जाने की खबर है।