रिम्स डायरेक्टर डीके सिंह ने कहा लालू यादव को कोरोना…………!

0

रांची: रिम्स के निजी वार्ड में इलाजरत राष्ट्रीय जनता दल सुप्रीमो लालू प्रसाद यादव के बारे में चर्चाओं का बाजार गर्म है कि मेडिसिन विभाग में भर्ती एक वृद्ध मरीज के कोरोना संक्रमित पाये जाने के बाद लालू का इलाज कर रहे मेडिसिन विभाग के चिकित्सक डा. उमेश प्रसाद की टीम के भी उससे प्रभावित होने की आशंका है। जिसके कारण लालू यादव के भी संक्रमित होने की संभावना है। इसी बीच रिम्स के डायरेक्टर डी के सिंह ने स्पष्टीकरण देते हुए कहा कि लालू यादव को कोरोना संक्रमण का खतरा नहीं है। इसका वजह उन्होंने यह बताया कि उनका इलाज करने वाले किसी डॉक्टर या उनकी टीम के किसी स्वास्थ्य कर्मी को कोरोना संक्रमण नहीं है।ऐसी स्थिति में उनके संक्रमित होने की कोई आशंका नहीं है। साथ ही लालू का इलाज कर रहे डा. उमेश प्रसाद की टीम का कोई व्यक्ति संक्रमित नहीं पाया गया है।

मीडिया रिपोर्ट्स के मुताबिक जब रिम्स डायरेक्टर के समक्ष यह प्रश्न उठाया गया कि क्या लालू यादव की कोरोना संक्रमण की जांच नहीं की जाएगी! इस पर उन्होंने जवाब देते हुए कहा कि फिलहाल इसकी कोई जरूरत नहीं है लेकिन यदि उनका इलाज कर रहे यूनिट के डॉ उमेश प्रसाद जरूरत महसूस करेंगे तो उनकी जांच की संभावना है।

बता दें कि राजद सुप्रीमो लालू यादव चारा घोटाला में सजायाफ्ता के तौर पर न्यायिक हिरासत में रिम्स में इलाजरत हैं।

वहीं दूसरी ओर बिहार के पूर्व उपमुख्यमंत्री और लालू यादव के छोटे पुत्र तेजस्वी यादव ने ट्वीट कर पटना में लालू के स्वास्थ्य को लेकर चिंता प्रकट करते हुए लिखा, “मेरे पिताजी लालू प्रसाद जी का इलाज कर रहे डॉक्टर के कोरोना संक्रमित व्यक्ति के संपर्क में आने और उन्हें क्वोरंटीन करने संबंधित खबरों के बारे में जानना तनावपूर्ण और चिंताजनक है। मैं 12 करोड़ बिहारवासियों की चिंताओं को इसके साथ सम्मिलित करते हुए यह सोचकर तनाव में हूं कि वह 72 वर्ष की उम्र में कई क्रॉनिक बीमारियों से जूझते हुए कोरोना जैसी महामारी के लिए सबसे अधिक असुरक्षित हैं। उन्हें अत्यधिक सुरक्षा और सावधानी चाहिए। जिस किसी के पास परिवार होता है, वही ऐसे दर्द और तनाव को समझ सकता है, जिससे हम गुजर रहे हैं.”।