Advertisement

रेप के आरोपी धर्मगुरु ने द्वीप खरीद कर बनाया नया देश

- Advertisement -

एजेंसी : हाल ही में भारत छोड़कर भागे हुए धर्मगुरु नित्यानंद ने निजी द्वीप खरीदने के बाद अपना राष्ट्र शुरू किया है। उन्होंने द्वीप को ‘कैलासा’ नाम दिया है और द्वीप राष्ट्र के लिए ध्वज, पासपोर्ट और प्रतीक भी डिजाइन कर लिया है।

एक रिपोर्ट के अनुसार उन्होंने किसी प्रधान मंत्री की अध्यक्षता में एक कैबिनेट भी नियुक्त किया है। त्रिनिदाद और टोबैगो के करीब स्थित, इस द्वीप को कथित तौर पर हिंदू संप्रभु राष्ट्र घोषित किया गया है।

उनकी आश्रम के वेबसाइट http://kailaasa.org के अनुसार “न्यू नेशन” एक मंदिर आधारित पारिस्थितिकी तंत्र, तीसरी आँख के पीछे विज्ञान, योग, ध्यान और गुरुकुल शिक्षा प्रणाली, सार्वभौमिक मुफ्त स्वास्थ्य देखभाल, मुफ्त शिक्षा और सभी के लिए मुफ्त भोजन प्रदान करता है। साइट में स्वयंभू गुरु दान मांग रहे हैं और दुनिया भर के लोगों को अपने ‘राष्ट्र’ का नागरिक बनने के लिए आमंत्रित कर रहे हैं।

तमिलनाडु के रहने वाले नित्यानंद ने 2010 में उस समय सुर्खियां बटोरीं जब एक एक्ट्रेस के साथ उनके साथ छेड़छाड़ की घटना सामने आई। बाद में उन पर बलात्कार का आरोप लगाया गया और उन्हे गिरफ्तार कर लिया गया।

कर्नाटक में उनके खिलाफ बलात्कार का मामला दर्ज होने के बाद नित्यानंद भाग गए थे।

गुजरात में, पुलिस हाल ही में अपहरण मामले में उनके दो शिष्यों को रिमांड में लेने के बाद उनके खिलाफ ठोस सबूत जुटाने में लगी थी। विवादास्पद गुरु के खिलाफ अपहरण और बच्चों को गलत तरीके से कैद करने के आरोपों के तहत राज्य में आश्रम चलाने के लिए अनुयायियों से चंदा इकट्ठा करने के लिए एक प्राथमिकी दर्ज की गई थी।

- Advertisement -

READ THIS ALSO

Jharkhand Varta

Related Articles

- Advertisement -

Latest Articles