रैयती जमीन को कब्जा कर जबरन मकान बनाए जाने से भुक्तभोगी ने अनुमंडल कार्यालय को आवेदन देकर लगाई न्याय कि गुहार

0

खबर सरिता देवी

मझिआंव गढ़वा :- नगर पंचायत क्षेत्र के वार्ड नंबर 12 स्थित खजूरी गांव निवासी राज कुमार मेहता के रैयती जमीन में गांव के ही देवधारी मेहता एवं उनके पुत्र बालमुकुंद मेहता के द्वारा जबरन कब्जा कर मकान बनाने का मामला प्रकाश में आया है।

इधर इस संबंध में भुक्तभोगी राजकुमार मेहता ने अंचलाधिकारी मझिआंव एवं अनुमंडल पदाधिकारी गढ़वा को लिखित आवेदन देकर निजी रैयती जमीन पर हो रहे मकान निर्माण कार्य को रोकते हुए उपरोक्त लोगों पर कानूनी कार्रवाई करने की मांग की है।

दिए गए आवेदन में कहा गया है कि खाता नंबर 16 एवं प्लॉट 462 रकबा साढ़े 6 डिसमिल मेरी माता देवीपति कुंवर के नाम से डिमांड चलता है, जबकि उसी खाता प्लाट में 5 डिसमिल भूमि का डिमांड मेरे नाम राजकुमार मेहता के नाम से भी चलता है। इसी रैयती जमीन पर गांव के ही देवधारी मेहता एवं उनके पुत्र बालमुकुंद मेहता के द्वारा जबरन मकान बनाया जा रहा है। मना करने पर उक्त व्यक्तियों के द्वारा मारपीट करने एवं जान से मारने की धमकी दी जाती है, जिसके कारण पूरा परिवार डर के साए में जीने को मजबूर हैं।

साथ ही राजकुमार ने बताया कि लगभग दो माह पूर्व भी अंचल कार्यालय को लिखित आवेदन देकर इंसाफ कि गुहाई लगाई थी।हालांकि अंचल कार्यालय के द्वारा निर्माण स्थल पर जाकर अगले आदेश तक मकान निर्माण कार्य नहीं करने का निर्देश दिया गया था।इसके बावजूद भी सरकारी निर्देशों का उलंघन करते हुए कानून को धता बता उक्त व्यक्तियों के द्वारा निर्माण जारी रखा गया है।साथ ही राजकुमार ने बताया कि अनुमंडल कार्यालय में अंचल एवं थाना की रिपोर्ट आने के बाद करवाई करने कि बात कही जा रही है।