रफ़्तार के कहर ने ली 3 लोगों की जान

0

रामगढ़ : गिद्दी- नईसराय मार्ग के बसरिया मोड़ सड़क पर सोमवार की रात सवा आठ बजे स्कूटी (जेएच24बी 5364) व (जेएच24बी 9993) बाइक के बीच हुई टक्कर में तीन युवकों की मौत हो गई है। रेलीगढ़ा दोतल्ला निवासी स्कूटी सवार मुंशी करमाली की मेदांता अस्पताल ओरमांझी ले जाने के दौरान रास्ते में ही मौत हो गई। जबकि प्रकाश मुंडा का मेदांता अस्पताल ओरमांझी में उपचार के दौरान रात साढ़े बारह बजे मौत हो गई।

वहीं बसरिया मोड़ के आगे सड़क पर बाइक टक्कर होने की जानकारी मिलने के बाद गिद्दी पुलिस द्वारा मुन्नु किस्कू की बाइक उठाकर थाना ले जाते देख बसरिया ग्रामवासी ने जब दुर्घटना स्थल पर उसे खोजने गए तो देखा कि बसरिया निवासी मुन्नू किस्कू पिता नरेश मांझी (30) का दुर्घटना स्थल के बगल झाड़ी में मृत पड़ा हुआ है। इसके बाद ग्रामीणों ने रात पौने एक बजे गिद्दी पुलिस को तीसरी बाइक सवार की भी मौत हो जाने की सूचना थाना जाकर दी।

गिद्दी पुलिस मंगलवार की सुबह में बसरिया निवासी मुन्नू किस्कू के शव को अपने कब्जे में लेकर पोस्टमार्टम के लिए हजारीबाग भेज दी। जबकि मुंशी व प्रकाश के शव को ओरमांझी पुलिस ने रांची रिम्स पोस्टमार्टम के लिए भेज दिया। बाद में मुन्नू किस्कू को दाह संस्कार बसरिया श्मशान घाट में किया गया। जबकि मुंशी करमाली का उसके पैतृक गांव मनातु ओरमांझी तथा प्रकाश मुंडा का उसके पैतृक गांव कुलही ओरमांझी में दास संस्कार किया गया। घटना के बाद से रेलीगढ़ा दोतल्ला व बसरिया में शोक की लहर है। रेलीगढ़ा दोतल्ला व बसरिया गांव का माहौल गमगीन हो गया है।

बताते हैं कि रेलीगढ़ा दोतल्ला निवासी मुंशी करमाली अपने स्कूटी से रेलीगढ़ा दोतल्ला के दोस्त प्रकाश मुंडा के साथ सिरका कउवाबेड़ा में मुर्गा लड़ाई में गया था। देर शाम को सिरका कउवाबेड़ा से अपनी स्कूटी से वापस रेलीगढ़ा दोतल्ला आ रहा था। तभी विपरीत दिशा से बसरिया निवासी मुन्नू किस्कू अपने घर से रात्रि पाली में एसआईएस सुरक्षा कर्मी के कार्य के लिए बेस्ट बोकारो डिविजन घाटो बाइक से जा रहा था। इसी बीच बसरिया मोड़ के आगे स्कूटी व बाइक के बीच जोरदार टक्कर हो गई।

दुर्घटना की सूचना के बाद गिद्दी पुलिस सड़क पर अचेत अवस्था में पड़े दो घायल युवक मुंशी करमाली व प्रकाश मुंडा को उठाकर गिद्दी अस्पताल भेजा। जहां चिकित्सक ने घायलों का प्राथमिक उपचार के बाद बेहतर इलाज के लिए बाहर रेफर कर दिया। अस्पताल में ही घायलों की पहचान रेलीगढ़ा दोतल्ला वासी के रूप में हुई। परंतु सड़क पर अंधेरा होने के कारण पुलिस व राहगिरों को सड़क के झाड़ी के पीछे पड़े तीसरे व्यक्ति को देख नहीं पाएं।

जबकि गिद्दी पुलिस घटना स्थल पर घंटों रहकर क्षतिग्रस्त स्कूटी व बाइक को वाहन में लादकर थाना लेते आई। बाद में पुलिस को वाहन पर बाइक व स्कूटी को ले जाता देख बसरिया वासियों बाइक का नंबर से मुन्नु की बाइक होना पहचान कर दुर्घटना स्थल पर जाकर उसकी खोज करने लगें। तभी सड़क के झाड़ी के पीछे मुन्नु किस्कू को घायल अवस्था में गिरा पड़ा देखा। जांच करने पर मुन्नु को मृत पाया। इसके बाद ग्रामवासियों ने गिद्दी पुलिस को बाइक सवार के घटना स्थल पर ही मौत होने की बात कही। जबकि तीसरे व्यक्ति के मौत होने की बात सामने आने तक दोनों रेलीगढ़ा दोतल्ला के युवकों के आपस में कैसे टक्कर हुई। इसको लेकर चर्चा का बाजार गर्म रहा। उधर गिद्दी पुलिस ने चौकीदार लोकन बेदिया के बयान पर बाइक व स्कूटी सवार पर लापरवाही से चलाने का एक मामला दर्ज किया है।