लाल किला हिंसा और धार्मिक झंडा फहराने का मामला: दीप सिद्दू समेत 4 आरोपियों पर एक लाख का इनाम, 12 के फोटो जारी

0

एजेंसी: गणतंत्र दिवस के मौके पर ट्रैक्टर परेड के दौरान लाल किले पर तांडव मचाने, लाल किले पर धार्मिक झंडा फहराने और हिंसक उपद्रवियों की तलाश में पुलिस जुट गई है। इसी बीच इस मामले में आरोपी दीप सिद्दू, जुगराज सिंह समेत 4 लोगों की जानकारी देने पर ₹1 लाख इनाम देने की घोषणा की है। आरोपियों पर लाल किला पर हिंसा और धार्मिक झंडा फहराने के लिए लोगों को उकसाने के आरोप में पुलिस ने मामला दर्ज किया है। इसके अलावा चार अन्य आरोपियों की जानकारी देने पर 50 -50 हजार रुपए का इनाम का ऐलान किया है।पुलिस ने इस मामले में अब तक 122 लोगों को गिरफ्तार कर लिया है।

दिल्ली पुलिस ने हिंसा की जांच के लिए ज्वाइंट कमिश्नर बीके सिंह के नेतृत्व में स्पेशल इन्वेस्टीगेशन टीम (एसआईटी) का गठन किया है। एसआईटी टीम में तीन अन्य डीसीपी जॉय तुर्की, मोनिका भारद्वाज और भीषण सिंह भी शामिल हैं।

26 जनवरी परेड हिंसा के बाद से मुख्य आरोपी दीप सिद्धू, पूर्व गैंगस्टर लक्खा सिधाना और लाल किले पर झंडा फहराने वाला जुगराज लापता हैं। उस पर पुलिस ने घटना के बाद एफआईआर दर्ज किया था।

वहीं दूसरी ओर ट्रैक्टर परेड के दौरान 26 जनवरी को हिंसा में शामिल उपद्रवियों की दिल्ली पुलिस की क्राइम ब्रांच तलाश कर रही है।दिल्ली पुलिस ने वीडियो और तस्वीरों के जरिए उपद्रवियों की पहचान की है, जो 26 जनवरी को लाठी-डंडे लेकर उत्पात मचाने पहुंचे थे।दिल्ली पुलिस ने तकनीक की मदद से तस्वीरों को साफ किया है, जिससे हिंसा फैलाने वाले लोगों की पहचान की जा सके।

मीडिया रिपोर्ट्स के मुताबिक पुलिस के पास हिंसा से जुड़े कई वीडियोज हैं।जिन्हें वह अपनी फॉरेंसिक टीम से साफ करवा रही है। पुलिस के द्वारा अब तक 12 आरोपियों के फोटो जारी किए जा चुके हैं